पाकिस्तान में होने वाली सार्क बैठक 'टली'

इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि नवंबर में होने वाली सार्क बैठक को आगे बढ़ा दिया गया है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने बीबीसी उर्दू सेवा के संवाददाता शहज़ाद मलिक से बातचीत में ये पुष्टि की है.

उनका कहना था, ''हमें नेपाल ने ये जानकारी दी है कि भारत और तीन अन्य देशों ने सार्क बैठक में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया है इसलिए अब हम ये बैठक आगे बढ़ा रहे हैं. ''

इस्लामाबाद में होने वाली सार्क बैठक के स्थगित होने की आशंका जताई जा रही थी क्योंकि भारत ने इसमें शामिल होने से इंकार कर दिया था.

बुधवार को भारत के अलावा बांग्लादेश, भूटान और अफ़ग़ानिस्तान ने भी पाकिस्तान में इस्लामाबाद में होने वाली सार्क शिखर बैठक में हिस्सा नहीं लेने का फ़ैसला किया था.

इसकी पुष्टि सार्क देशों की अध्यक्षता कर रहे नेपाल के विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव जाबिंद्र प्रसाद दयाल ने बीबीसी नेपाली सेवा से की. उन्होंने बताया है कि अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान और भारत ने आधिकारिक तौर पर बैठक में भाग नहीं लेने की जानकारी दी है.

इस्लामाबाद में ये बैठक नौ-दस नवंबर को प्रस्तावित है. सार्क शिखर सम्मेलन, दक्षिण एशिया के आठ देशों के राष्ट्राध्यक्षों की होने वाली बैठक है. जो हर दो साल में आयोजित होती है.

इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान के टीवी चैनल पीटीवी ने सार्क के नियमों का हवाला देते हुए कहा है कि अगर कोई सदस्य देश सम्मेलन में हिस्सा नहीं ले पाता तो सम्मेलन की तारीख को आगे बढाना आवश्यक है.

पीटीवी का ये भी कहना है कि सार्क सम्मेलन में बाधा पहुंचाने का भारत का रिकार्ड पुराना है.

भारत ने सबसे पहले क्षेत्रीय सहयोग और चरमपंथ एक साथ नहीं चल सकता है, कहकर बैठक में हिस्सा लेने से इनकार किया था.