पंजाब में गुरुद्वारों से हो रही है अपील

इमेज कॉपीरइट Robin Singh

पंजाब में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे ज़िलों में गुरूद्वारों से अपील की जा रही है कि लोग सीमावर्ती इलाकों से दूर किसी सुरक्षित इलाक़े में चले जाएं.

सीमा से सटे ज़िले अमृतसर, गुरदासपुर, पठानकोट और फ़िरोज़पुर ज़िलों में सीमा से सटे गुरुद्वारों से ऐलान किया जा रहा है कि सीमावर्ती इलाक़े इस समय सुरक्षित नहीं हैं.

उन इलाक़ों में रह रहे लोगों से अपील की जा रही है कि वो वहां से हट जाएं और सुरक्षित जगहों पर चले जाएं.

अपील में पहले बच्चों, महिलाओं और बुज़ुर्गों को हटाने की बात कही जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Robin Singh

हालांकि कोई भी अधिकारी इस बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है और न ही उन इलाक़ों में सैनिकों की कोई आवाजाही देखी जा रही है.

लेकिन गुरुद्वारों से की जा रही अपील से लोगों में घबराहट फैल गई है और कई लोग वहां से हटकर अपने रिश्तेदारों, दोस्तों के पास जा रहे हैं.

इस बीच पंजाब सरकार ने सीमावर्ती इलाकों में मौजूद स्कूल, कॉलेजों को बंद करने की आधिकारिक घोषणा कर दी है.

सरकार का कहना है कि हालात को देखते हुए ऐसा फ़ैसला किया गया है.

वाघा सीमा पर रोज़ाना होने वाली बीटिंग रिट्रीट में अब आम लोग शामिल नहीं हो सकेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)