भारतीय सैनिक एलओसी के पार पहुंचा

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत ने माना है कि उसका एक हथियारबंद सैनिक नियंत्रण रेखा पार कर गया है.

इस बीच कुछ दिनों पहले हुए उड़ी हमले में घायल एक और सैनिक के मारे जाने की ख़बर है.

भारतीय रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि सेना के डीजीएमओ ने पाकिस्तान को हॉटलाइन पर इसकी जानकारी दे दी है.

रक्षा मंत्रालय की तरफ़ से कहा गया है कि 37 राष्ट्रीय राइफ़ल्स का एक सैनिक ग़लती से सीमा पार कर गया.

ये भी कहा गया है कि सैनिकों और नागरिकों के नियंत्रण रेखा पार करने की घटनाएं आम हैं और उन्हें मौजूदा प्रक्रिया के मुताबिक़ वापस भेज दिया जाता है.

भारत ने पाकिस्तानी मीडिया में सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान आठ भारतीय सैनिकों की मौत की ख़बर को ख़ारिज किया है.

रक्ष मंत्रालय ने इन ख़बरों को ग़लत और आधारहीन बताया है.

भारत ने गुरुवार को नियंत्रण रेखा पर सर्जिकल स्ट्राइक कर कई चरमपंथियों को मारने का दावा किया जिससे पाकिस्तान ने इनकार किया है.

इस बीच भारत प्रशासित कश्मीर के उरी में सेना के कैंप पर 18 सितंबर के चरमपंथी हमले में घायल हुए एक और सैनिक की मौत हो गई है.

इमेज कॉपीरइट EPA

उड़ी की ख़बरे के बारे में समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक इस हमले में अब तक 19 सैनिकों की मौत हो चुकी है.

पीटीआई के मुताबिक़ उड़ी हमले में गंभीर रूप से घायल इस सैनिक का इलाज दिल्ली में सेना के रिसर्च एंड रेफ़रल हॉस्पीटल में चल रहा था.

18 सितंबर को हुए इस हमले में 17 सैनिक मारे गए थे. सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में चार संदिग्ध चरमपंथी भी मारे गए थे.

भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर के उड़ी में सेना के कैंप पर हुए चरमपमंथी हमले के लिए पाकिस्तान स्थित चरमपंथी गुट जैश-ए-मोहम्मद को ज़िम्मेदार ठहराया है.

भारत और पाकिस्तान में उड़ी हमले के बाद तनाव बढ़ गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)