'भारत नहीं किसी देश की ज़मीन का भूखा'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में चरमपंथियों के लॉन्च पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक के भारतीय सेना के दावे के बाद बढ़े तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि भारत ने कभी किसी देश पर हमला नहीं किया है.

उन्होंने ये भी कहा कि भारत किसी की ज़मीन हथियाने के लिए भूखा भी नहीं है लेकिन भारत के सैनिकों ने देश और दूसरों के हितों के लिए बलिदान दिए हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रविवार को दिल्ली में प्रवासी भारतीय केंद्र के उद्घाटन समारोह में पहुंचे मोदी ने कहा,''भारत ने किसी पर हमला नहीं किया है. न ही भारत किसी और की ज़मीन का भूखा है. लेकिन दो विश्व युद्धों में (जिसमें भारत का सीधे कोई लेना-देना नहीं था), 1.5 लाख भारतीय सैनिकों ने अपनी जीवन की कुर्बानी दी थी.''

उन्होंने कहा कि विदेश में रहने वाले भारतीय मूल के लोग भी राजनीति या फिर विदेशी ज़मीन हड़पने में शामिल नहीं होते बल्कि अन्य समुदायों के साथ मिल-जुलकर रहते हैं. उनका कहना था कि भारत के लोग पानी की तरह होते हैं और दूसरे लोगों के साथ घुलमिलकर रहते हैं.

मोदी ने कहा कि कई कुर्बानियों के बावजूद दुनिया ने भारत के महत्व को नहीं समझा है इसलिए वो जब भी विदेश जाते हैं तो भारतीय सैनिकों के लिए बनाए गए स्मारकों पर जाना नहीं भूलते.

इमेज कॉपीरइट EPA

18 सितंबर को भारत प्रशासित कश्मीर के उड़ी में भारतीय सेना के कैम्प पर हमले में 19 सैनिकों की मौत हो गई थी जिसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है.

वहीं 29 सितंबर को भारत ने पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में चरमपंथियों के लॉन्च पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक के ज़रिए कई चरमपंथियों को मारने का दावा किया. हालांकि पाकिस्तान ने इस दावे को झुठलाया है और भारत पर तनाव बढ़ाने का आरोप लगाया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)