'जाति के आधार पर किसी को न मिले आरक्षण'

इमेज कॉपीरइट AFP

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने मराठा आरक्षण की मांग का विरोध किया है.

राज ठाकरे ने कहा है कि आरक्षण जातिगत आधार पर नहीं दिया जाना चाहिए.

उनका कहना था कि मराठा आरक्षण की मांग तोड़ने वाली राजनीति है.

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में आयोजित पार्टी के सम्मेलन में राज ठाकरे ने कहा, "ये समाज को बांटने की राजनीति है. मैं जाति को नहीं मानता हूं. जातिगत आरक्षण से अच्छा होगा कि आर्थिक रुप से पिछड़े लोगों को आरक्षण दिया जाए चाहे वो किसी भी जाति से हों."

महाराष्ट्र में बीते कई दिनों से मराठा आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन चल रहा है. इस मांग के समर्थन में महाराष्ट्र के कई ज़िलों में रैलियां भी निकाली गई हैं.

इमेज कॉपीरइट VAISHALI GALIM
Image caption पुणे में निकाले गए मराठा मार्च में शामिल लोग. (फाइल चित्र)

राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने भी आंदोलनकारियों को बातचीत के लिए आगे आने को कहा है.

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के सम्मेलन में राज ठाकरे ने राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रमुख शरद पवार की भी आलोचना की.

राज ठाकरे ने कहा, "शरद पवार ने मराठा समाज के साथ धोखा किया है. वो जानते हैं कि कानून के आधार पर महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण लागू नहीं किया जा सकता है. फिर भी इस पर राजनीति करते हुए उन्होंने मराठा समाज को भड़काया है."

राज ठाकरे ने कहा कि समाज को बांटने वाली राजनीति बंद होनी चाहिए.