नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी थे बुढाना की रामलीला में किरदार

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि अभिनेता नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी को रामलीला से मुसलमान होने की वजह से बाहर होना पड़ा.

रामलीला समिति के अध्यक्ष दामोदर प्रसाद शर्मा ने कहा , ''शिवसेना के कुछ लोगों ने कहा कि वो नहीं चाहते किे कोई मुस्लिम रामलीला में शामिल हो. पुलिस ने भी कहा कि नवाज़ुद्दीन को इसमें हिस्सा न लेने दिया जाए. पुलिस ने कहा अगर इसके मंचन के दौरान कोई हंगामा होता है तो ज़िम्मेदारी आपकी होगी.''

ये रामलीला मुज़फ़्फ़रनगर के बुढाना में होनी थी.

लोग नवाज़ुद्दीन को देखने के लिए जमा थे लेकिन फिर घोषणा हुई कि वो मंच पर नहीं आएंगे.

नवाज़ुद्दीन बुढाना के हैं इन दिनों छुट्टी पर वहां गए हैं. उन्होंने कहा कि वो बचपन से रामलीला में अभिनय करना चाहते थे.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने लिखा है कि नवाज़ुद्दीन की रामलीला में शिवसेना बनी विलन. नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी मारीच की भूमिका करने वाले थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

हिंदुस्तान टाइम्स अख़बार ने लिखा है कि दादरी में बीफ़ खाने के शक में पीट-पीटकर मारे गए मोहम्मद अख़लाक की हत्या के संदिग्ध के शव को तिरंगे में लपेटा गया.

22 वर्षीय रवि उर्फ़ रॉबिन की न्यायिक हिरासत में अस्पताल में मौत हो गई थी.

तिरंगे में लिपटा उसका शव बिसाहड़ा गांव में लाया गया तो उसे वहां शहीद बताया गया और नेताओं ने कहा कि उसकी शहादत बेकार नहीं दी जाएगी.

राज्य सरकार ने उसके परिवार को 10 लाख रुपए का मुआवज़ा देने की घोषणा की थी लेकिन गांववालों ने रवि का अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया. गांववालों की मांग थी कि मुआवज़ा एक करोड़ रुपए किया जाए.

इमेज कॉपीरइट AFP

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग थलग पड़ने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने पहली बार पाकिस्तान की सेना को चेतावनी दी है कि वो प्रतिबंधित चरमपंथियों को पनाह न दे.

पाकिस्तान के अख़बार डॉन के हवाले से कहा गया है कि नवाज़ शरीफ़ ने कहा है कि पठानकोट और 2008 के मुंबई हमलों की जांच जल्दी पूरी करने को कहा.

इमेज कॉपीरइट BCCI

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने लिखा है कि सुप्रीम कोर्ट आज बीसीसीआई के लिए कड़ा आदेश दे सकती है.

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा था कि शुक्रवार को अदालत ये सुनिश्चित करेगी कि बीसीसीआई लोढा समिति की सिफ़ारिशों को माने. सुप्रीम कोर्ट संभवत: प्रशासनिक अधिकारियों का पैनल भी नियुक्त कर सकती है.

द स्टेट्समैन ने लिखा है कि गुजरात में गरबा उत्सव में आने वाले लोगों पर बजरंग दल के कार्यकर्ता गौमूत्र छिड़क रहे हैं.

नौ दिन के नवरात्रि उत्सव में मुस्लिमों के प्रवेश को रोकने जैसी घटनाएं आम हैं और अब कम से कम दो जगहों पर गरबा में आने वालों पर गौमूत्र छिड़ने की बात सामने आई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)