'चक्की अशुद्ध' करने पर दलित की हत्या

इमेज कॉपीरइट PTI

उत्तराखंड पुलिस के मुताबिक गेहूं पिसवाने आए एक दलित की चक्की को अशुद्ध करने के नाम पर हत्या कर दी गई है.

घटना बागेश्वर ज़िले की है जहां गुरुवार को प्राथमिक स्कूल के एक अध्यापक ने दलित की आटा छूने पर कथित रूप से हत्या कर दी.

बागेश्वर के पुलिस अधीक्षक सुखवीर सिंह ने बीबीसी को बताया, "सोहन राम की दलित होने के चलते हत्या की गई है. हमने हत्या की धाराओं के साथ दलित एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया है."

उन्होंने बताया, "हमने हत्या में इस्तेमाल हुआ हथियार बरामद कर लिया है और अभियुक्त को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया है."

सुखबीर सिंह ने बताया, "मृतक अपने परिवार में अकेला कमाने वाला था. उसके पिता विकलांग हैं और पत्नी गर्भवती है जबकि घर में छोटे बच्चे भी हैं. हमारी प्राथमिकता है कि पीड़ित परिवार को मुआवज़ा भी दिलवाया जाए."

पुलिस का कहना है कि जांच में पता चला है कि मृतक के लिए जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया गया और चक्की अशुद्ध करने के नाम पर उसकी हत्या की गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)