'हमला होने पर जवाब में गोलियां नही गिनेंगे'

इमेज कॉपीरइट @rajnathsingh

भारत के गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान से लगी सीमाओं की सुरक्षा समीक्षा की है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक उन्होंने कहा है कि यदि भारत पर हमला हुआ तो फिर जवाबी कार्रवाई में गोलियां नहीं गिनी जाएंगी.

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) के मुनाबाओ पोस्ट पहुँचे राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार सीमा पर सुरक्षा चौकसी बढ़ाने के लिए सभी ज़रूरी ढांचागत सुविधाएं मुहैया कराएगी. इसमें बाड़ के साथ सड़क बनाना और बाड़ पर रोशनी के फ्लडलाइटें लगाना भी शामिल है.

राजनाथ सिंह ने कहा, "वसुधैव कुटम्बकम यानी पूरी दुनिया एक परिवार है यही हमारी विरासत है. हम दूसरों की ज़मीन क़ब्ज़ा करने की इच्छा नहीं रखते हैं."

उनका कहना था, ''हम कभी भी पहले गोली नहीं चलाते. लेकिन हमला होने पर जवाबी कार्रवाई में हम गोलियां नहीं गिनते हैं. ''

राजनाथ सिंह ने ये भी कहा कि सीमा पर लगी बाड़ की तुरंत मरम्मत भी करवाई जाएगी.

उन्होंने ये भी कहा कि सीमा पर संचार व्यवस्था बेहतर करने के लिए मोबाइल टावर लगाए जाएंचे और सीमा चौकियों को सेटेलाइट फ़ोन उपलब्ध करवाए जाएंगे.

राजनाथ सिंह ने सीमावर्ती प्रांतों के मुख्यमंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद कहा था कि भारत पाकिस्तान से लगी समूची सीमा पर 2018 तक सुरक्षा बाड़ लगा लेगा.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)