अवैध भर्ती मामले में एसीबी के सामने पेश हुए सिसोदिया

इमेज कॉपीरइट Facebook

दिल्ली महिला आयोग में ''अवैध भर्ती'' के मामले में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया शुक्रवार को भष्टाचार निरोधी ब्रांच (एसीबी) के सामने पेश हुए.

उप मुख्यमंत्री सिसोदिया ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा जितने काम आम आदमी पार्टी ने दिल्ली के लिए किए है उतने काम पिछले बीस सालों में भी किसी सरकार ने नहीं किए.

इमेज कॉपीरइट Pti

उनका कहना था, ''हमारे काम से ये लोग घबराए हुए हैं कि इतना काम दिल्ली की सरकार कैसे कर रही है हमारी अड़चनों के बावजूद. इसलिए ये एसीबी पीछे लगा देते हैं. एक छोटे से नोट पर तीन घंटें मंत्री को बिठा कर पूछताछ करते हैं.''

सिसोदिया ने आरोप लगाया, ''अफ़सरों से पूछताछ करते हैं, सबको डरा कर रखते हैं तुमको जेल में भिजवा देंगे. ये चाहते हैं मंत्री और अफ़सर काम न करें. इसलिए एसीबी, सीबीआई जांच कर रही है. करें खूब करें.''

दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने कहा है कि सिसोदिया को एसीबी का समन ''राजनीतिक प्रतिशोध का धुंआ'' है.

जैसे ही सिसोदिया एसीबी के दफ़्तर पहुंचे मालिवाल ने टविट किया कि सिसोदिया की दिल्ली महिला आयोग की नियुक्ति में कोई भूमिका नहीं है.

इससे पहले मालीवाल से भी कथित अवैध भर्ती मामले में दो बार पूछताछ हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

i