मुलायम ने उदयवीर को पार्टी से किया बाहर

इमेज कॉपीरइट AP

समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने एमएलसी उदयवीर सिंह को छह साल के लिए पार्टी से बाहर कर दिया है.

उदयवीर सिंह ने दो दिन पहले पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को एक पत्र लिखा था और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग की थी और मुलायम को पार्टी का संरक्षक बनने का सुझाव दिया था.

उदयवीर ने अपने पत्र में ये भी लिखा था कि अखिलेश के खिलाफ परिवार के अंदर से ही साजिश हो रही है. इस पत्र के सार्वजनिक होने के बाद से ही उदयवीर के खिलाफ कार्रवाई होने की उम्मीद की जा रही थी.

समाजवादी पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की शनिवार को लखनऊ में हुई बैठक में उदयवीर सिंह को पार्टी से बाहर करने का प्रस्ताव पारित किया गया.

पार्टी प्रवक्ता मोहम्मद शाहिद ने बीबीसी को बताया, "पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. वो चाहे कोई भी हो. "

इमेज कॉपीरइट DINESH SHAKYA
Image caption उदयवीर सिंह (गले में माला पहने हुए)

उदयवीर सिंह को अखिलेश यादव का करीबी माना जाता है. उनके पत्र पर जब सवाल उठे तो उदयवीर ने मीडिया से कहा कि उन्होंने हकीकत को ही सामने रखा है.

समाजवादी पार्टी में जारी तकरार के बीच शनिवार को लखनऊ में पार्टी के वरिष्ठ नेता बेनी प्रसाद वर्मा, रेवती रमण सिंह और किरणमॉय नंदा ने मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की. इन नेताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ पार्टी में जारी विवाद को सुलझाने पर विचार विमर्श किया.

समाजवादी पार्टी आगामी 5 नवंबर को अपना 25वां स्थापना दिवस मनाने जा रही है. हालांकि इसके दो दिन पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी रथ यात्रा शुरू करने का एलान किया है.

मुख्यमंत्री के रथयात्रा कार्यक्रम को भी पार्टी के अंदर चल रही जंग से जोड़कर देखा जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)