'सरदार के जन्मदिन पर सरदारों की हत्या दुखद'

इमेज कॉपीरइट Reuters

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को रेडियो पर 'मन की बात' के माध्यम से देश को संबोधित किया.

'मन की बात' कार्यक्रम का ये 25वां प्रसारण था. प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर देशवासियों को दिवाली की शुभकामनाएं भी दीं.

मोदी ने कहा कि यह दिवाली सुरक्षा बलों को समर्पित हो. मोदी ने देश के पहले गृह मंत्री सरदार बल्लभ भाई पटेल और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी याद किया.

मोदी ने कहा, "31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती है, साथ ही श्रीमती गांधी की पुण्यतिथि भी है. पीड़ा है कि सरदार साहब की जन्म-जयंती पर हज़ारों सरदारों को श्रीमती गाँधी की हत्या के बाद मौत के घाट उतार दिया गया."

इमेज कॉपीरइट AFP

मोदी ने मन की बात में सेना के जवानों को भी याद किया.

उन्होंने कहा, "हमारे जवान किस-किस प्रकार से कष्ट झेलते हैं. हम जब दिवाली मना रहे हैं, कोई रेगिस्तान में खड़ा है,कोई हिमालय की चोटियों पर. हर देशवासी के दिल में जवानों के प्रति प्यार और गर्व है. जिस प्रकार से उसकी अभिव्यक्ति हुई है, ये हर देशवासी को ताकत देने वाली है. यह दिवाली सुरक्षा बलों के नाम पर समर्पित हो."

इमेज कॉपीरइट EPA

मोदी ने मन की बात में प्रकाशोत्सव का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा, "गुरु नानक देव, उनकी शिक्षा-दीक्षा पूरी मानव जाति के लिए आज भी दिशादर्शक है. गुरु नानक ने जो ज्ञान दिया, वो हमें भेदभाव छोड़ने की प्रेरणा देता है."

इमेज कॉपीरइट AFP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक कविता पढ़कर सेना के प्रति देशवासियों के प्यार को जाहिर भी किया.

इमेज कॉपीरइट AFP

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)