छठ पर सूरज को दिया गया आस्था का अर्घ्य

छठ वो त्योहार है जिसमें डूबते और उगते सूरज दोनों ही वक्त का बराबर महत्व है. डूबते सूरज को अर्घ्य देने के साथ रविवार शाम इस त्योहार की खूबसूरत झलकियां देश के कई राज्यों में देखने को मिलीं.

मुख्य रूप से छठ बिहार और झारखंड में मनाया जाता है. लेकिन कई अन्य राज्यों में नदियों, नहरों के किनारे श्रद्धालुओं की भीड़ रही. देखिए छठ के मौके पर घाटों की कुछ ख़ास तस्वीरें.

रविवार शाम को सूरज को अर्घ्य देने से पहले बिहार में महिलाएं घाटों की तरफ जाती हुईं.

इमेज कॉपीरइट Biharpictures

केंद्रीय खाद्य मंत्री राम विलास पासवान बेटे चिराग और परिवार की महिलाओं के साथ छठ मनाते हुए.

इमेज कॉपीरइट Bihar pictures

बिहार के मख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने घर पर ही छठ पूजा के दौरान अर्घ्य देते हुए इस तस्वीर में नजर आ रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Bihar Pictures

ऐसा जरूरी नहीं है कि छठ पूजा पर महिलाएं सिर्फ नदी या नहर किनारे ही सूरज को अर्घ्य देती हैं. जिन जगहों में ये व्यवस्था नहीं होती है, वहां अब महिलाएं ऊपर दिख रहे तालाबों से भी अर्घ्य देती हैं.

इमेज कॉपीरइट Bihar Pictures

इस त्योहार के बारे में हिंदू धर्म के जानकार पंडित रामदेव पांडे ने बीबीसी को बताया, ''छठ के बारे में कहा जाता है कि इस व्रत को पहली बार सतयुग में राजा शर्याति की बेटी सुकन्या ने रखा था.''

इमेज कॉपीरइट Bihar pictures

अर्घ्य देते वक्त छठ के प्रसाद को सूप में रखा जाता है.

इमेज कॉपीरइट biharpictures