नोट बदल लिया तो उंगली पर लगेगी स्याही

इमेज कॉपीरइट AP

पांच सौ और हज़ार के नोट को बदलने वालों की उंगली पर जल्दी न मिटने वाली स्याही लगाई जाएगी.

यह वही स्याही होगी, जो मतदान के लिए मतदाताओं के उंगलियों पर लगाई जाती है.

आर्थिक मामलों के विभाग के सचिव शक्तिकांत दास ने मंगलवार को संवाददाताओं को बताया कि यह काम मंगलवार से ही बड़े शहरों के बैंकों में शुरू हो जाएगा.

उन्होंने बताया कि जानकारी मिली है कि कुछ लोग बार-बार नोट बदल रहे हैं.

जब उनसे पूछा गया कि इस बात की पहचान कैसे होगी कि स्याही का निशान एक दिन पहले का है या एक दिन बाद का.

शक्तिकांत दास ने कहा कि इसके बारे में बैंकों को दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं.

उन्होंने ये भी बताया कि लोगों को परेशानी से बचाने के लिए बैंकों में माइक्रो एटीएम लगाया जा रहा है. यह अलग से एक ग्रीन चैनल होगा जिससे डेबिट या क्रेडिट कार्ड से पैसे निकाल सकते हैं.

उन्होंने बताया है कि शिकायत मिलने के बाद मंदिरों और ट्रस्टों में दान देने और जनधन खाते की जमा पर भी नजर रखी जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

सचिव के मुताबिक़ इस कदम से सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि लोगों को कम परेशानी हो. उन्होंने कहा कि देश में नकद की कमी नहीं है.

उन्होंने बताया कि सरकार जरूरी चीजों की आपूर्ति पर कड़ी नजर रखी जा रही है. इसलिए लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है. देश में नमक की कोई कमी नहीं है.

दो हजार रुपए के नोट के रंग छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि ये सामान्य बात है और जो नोट रंग नहीं छोड़ रहे हैं, वो नकली हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)