''मुख्यमंत्री नहीं, दुखमंत्री बनना चाहता हूं''

इमेज कॉपीरइट BHAGWANT MANN FB

आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान ने बीबीसी फेसबुक लाइव में पंजाब चुनाव से लेकर नोटबंदी के मुदे पर खुलकर बात की.

बीबीसी फेसबुक लाइव के दौरान रेडियो संपादक राजेश जोशी ने उनसे पूछा कि क्या आप पंजाब के मुख्यमंत्री बनना चाहेंगे?

भगवंत मान ने जवाब दिया '' मैं पंजाब का मुख्मंत्री नहीं दुखमंत्री बनना चाहता हूं. मैंने पंजाबियों को इतना उदास पहली बार देखा है, वरना पंजाबी तो हंसने खेलने, भांगड़ा करने के लिए जाने जाते थे. लेकिन हमारा युवा या तो नशे में चला गया या विदेशों में चला गया. क्या मुख्यमंत्री बनकर ही दुख दूर हो सकते हैं. मेरी ऐसी कोई इच्छा नहीं है.''

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान के साथ बीबीसी ने फेसबुक लाइव किया.

नोटबंदी को लेकर भी भगवंत मान ने सरकार के फैसले की जमकर आलोचना की, लेकिन जब बीबीसी संवाददाता पंकज प्रियदर्शी ने उनसे पूछा कि आपको या आप की पार्टी के नेताओं को तो पैसे के लिए बैंको की लाइन में पेरशान होते नहीं देखा.

इसके जवाब में भगवंत मान ने अपने ड्राइवर की तरफ इशारा करके कहा कि '' ये लड़का मेरे साथ काम करता है मेरा ऑफिशिय़ल ड्राइवर है, पैसे इसके पास होते हैं.''

आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान ने साफ़ कर दिया कि पैसे निकलवाने जैसे ख़ास कामों के लिए उनके ड्राइवर लाइन में लगते हैं.

साथ ही भगवंत मान ने कहा कि '' अगर मैं लाइन मैं लगूंगा तो आप लोग ही कहेंगे कि राहुल गांधी की तरह ड्रामा किया आपने.''

बीजेपी से अलग हुए नवजोत सिंह सिद्धू के आप से जुड़ने के सवाल पर भगवंत मान ने कहा '' जिस दिन सिद्धू साहब ने राज्यसभा की सदस्यता छोड़ी, सबसे पहले हमने कहा था कि अगर वो पार्टी में आना चाहते हैं तो स्वागत करेंगे. कैम्पेन कमेटी का चेयरमैन होने के नाते मैं कह सकता हूं कि मेरा तो बोझ हल्का कर देते वो, ख़ुद बहुत अच्छे वक्ता हैं, अगर वो आना चाहते हैं तो आज भी आ सकते हैं, लेकिन शर्त नहीं होनी चाहिए.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)