कानपुर रेल हादसा: 142 मौत की पुष्टि

इमेज कॉपीरइट AFP

रविवार तड़के कानपुर से 60 किलोमीटर दूर हुए रेल हादसे में मरने वालों की तादाद 142 तक पहुंच गई है.

रेल विभाग के पीआरओ (नॉर्दर्न सेंट्रल) अमित मालवीय ने स्थानीय पत्रकार रोहित घोष को बताया कि अब तक 142 शव बरामद किए जा चुके हैं, जबकि घायलों की संख्या 180 है.

रविवार रात तक 133 शव निकाले जा चुके थे और सोमवार को नौ और शव मिले.

हादसे में पटना-इंदौर इंटरसिटी रेलगाड़ी के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए थे. ट्रेन इंदौर से पटना जा रही थी जब सुबह 3 बजे के क़रीब पोख़रायां में यह हादसा हुआ.

और पढ़ें - राहतकर्मियों का आंखों देखा हाल

इमेज कॉपीरइट AFP

हादसे के कारण ट्रेन के 4 स्लीपर डिब्बे बुरी तह से क्षतिग्रत हो गए थे. आशंका जताई जा रही है कि इन डिब्बों में अभी भी कई लोग फंसे हो सकते हैं.

सैंकड़ों घायलों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. और पढ़ें - उम्मीद और नाउम्मीदी के बीच झूलते लोग

इमेज कॉपीरइट EPA

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार सेना रात में राहत और बचाव कार्य जारी रखेगी. सेना ने इसके लिए 90 बचावकर्मियों और 50 सदस्यों की एक मेडिकल टीम भेजी है जिसमें 5 डॉक्टर शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

कानपुर स्टेशन के आर्मी कमांडर ब्रिगेडियर बीएम शर्मा ने कहा, "हम रात भर काम करने की तैयारी कर रहे हैं. हमने लाइटें लगा ली हैं, रेलवे के क्रेन काम कर रहे हैं लेकिन हमने अपने बख़्तरबंद रिकवरी गाड़ियों को काम पर लगाया है ताकि काम तेज़ी से हो."

इमेज कॉपीरइट EPA

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने हादसे के पीछे रेल की पटरी पर आई दरार के वजह होने की आशंका जाहिर की है.

रेल मंत्री ने कहा है कि रेलवे बोर्ड सदस्य हादसे के कारणों की जांच कर रहे हैं और दोषियों को बख़्शा नहीं जाएगा.

इमेज कॉपीरइट AP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में मारे जाने वालों के परिजनों के लिए 2 लाख रुपये, और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 5 लाख रुपये के मुआवज़े की घोषणा की है.

गंभीर रुप से घायल लोगों को उत्तर प्रदेश सरकार 50,000 और सामान्य रुप से घायल लोगों को 25,000 रुपये देगी.

इमेज कॉपीरइट AP

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की थी जिसे उन्होंने बढ़ा कर 3.5 लाख कर दिया है.

मध्यप्रदेश सरकार ने भी मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50,000 रुपये का मुआवज़ा देने की घोषणा की है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रेल दुर्घटना में बिहार के रहने वाले मृतकों के आश्रितों को 2 लाख रु. एवं घायलों को 50 हज़ार रु. देने की बात कही है.

इमेज कॉपीरइट AFP

कानपुर रेल हादसे को हाल में देश में हुए सबसे बुरे हादसों में से एक बताया जा रहा है. पढ़ें - भारत में अब तक हुए बड़े रेल हादसे

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे