बंदर के कारण छिड़ी जंग, 20 लोगों की मौत

Image caption फ़ाइल फ़ोटो

लीबिया के स्थानीय मीडिया ने ख़बर दी है कि एक बंदर के एक लड़की पर हमले के कारण दो क़बीलों के बीच हिंसक संघर्ष छिड़ गया.

दक्षिणी लीबिया के सबा शहर में हुई इस घटना के बाद छिड़ी जंग में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई है.

सबा शहर में एक पालतू बंदर ने एक स्कूली छात्रा पर हमला किया था. कुछ रिपोर्टों के मुताबिक बंदर ने लड़की का हिजाब खींचा लिया और उसे नोचा और काटा भी.

ये बंदर गद्दाफ़ा क़बीले का था और इस घटना से नाराज़ औलाद कबीले के लड़की के परिवार ने जवाबी हमला किया.

इसके बाद औलाद सुलेमान और गद्दाफ़ा क़बीले के बीच कई दिन तक हिंसा का दौर जारी रहा.

शुरुआती संघर्ष में बंदर समेत तीन लोगों की मौत हो गई.

ख़बरों के मुताबिक़ दोनों क़बीलों के बीच टैंक, रॉकेट, मोर्टार और भारी हथियारों चले जिससे 50 लोग घायल भी हो गए.

गद्दाफ़ा क़बीले का लीबिया के पूर्व शासक मुअम्मर गद्दाफ़ी के समुदाय से ताल्लुक है.

इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका है क्योंकि सुलेमान समुदाय के मरने वाले लोगों की ही ख़बर अब तक सामने आई है.

लीबिया के दक्षिण के उपेक्षित इलाके में स्थित सबा प्रवासियों और हथियारों की तस्करी का गढ़ माना जाता है.

2011 में मुअम्मर गद्दाफ़ी को हटाए जाने के बाद लीबिया में सत्ता का संघर्ष जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)