नोटबंदी: विपक्ष के आरोप पर पीएम मोदी के 6 वार

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी पर विपक्ष की आलोचना का जवाब देते हुए चुटकी ली कि जो लोग काले धन के इंतज़ाम की तैयारी नहीं कर पाए पीड़ा उन्हें हो रही है.

26 नवंबर को संविधान दिवस से एक दिन पहले संविधान के डिजिटल संस्करण का एक समारोह में विमोचन किया गया. इस मौके पर नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के मुद्दे पर भी विपक्ष को घेरा.

राज्यसभा में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी की मौजूदगी में कहा था कि इसे ठीक तरीके से लागू नहीं किया गया.

प्रधानमंत्री ने दिल्ली के विज्ञान भवन में विपक्ष के आरोपों का जवाब दिया. जानिए पीएम मोदी के भाषण की अहम बातें

1. लोगों की शिकायत है कि हमने नोटों को रद्द करने से पहले ठीक से तैयारी नहीं की, लेकिन उनकी पीड़ा यह नहीं है. पीड़ा यह है कि हमने उन्हें तैयारी करने का समय नहीं दिया.

2. यदि आम लोग व्हॉट्सऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं तो मोबाइल के ज़रिए डिज़िटल करेंसी का इस्तेमाल क्यों नहीं कर सकते हैं?

3. देश की कुल आबादी में 65 फ़ीसदी लोग युवा हैं और करोड़ों के पास स्मार्टफ़ोन हैं, ऐसे में हमें डिज़िटल करेंसी को बढ़ावा देना चाहिए.

4. आठ नवंबर को जो हमने फ़ैसला लिया है उससे सबसे ज़्यादा फ़ायदा नगर निगम और नगरपालिकाओं को हुआ है. उन्हें भारी टैक्स हासिल हुआ.

5. देशहित में फ़ैसले लेने होते हैं और हमें उसका पालन भी करना होता है.

6. लोगों को लगता है कि पिछले 70 सालों से संविधान का दुरुपयोग कर भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)