प्रेस रिव्यू: कोहरा छाया, ज़हरीली हवा में जीना मजबूरी

इमेज कॉपीरइट AFP

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी की वजह से दिल्ली और उसके आसपास के इलाक़ों में तापमान में गिरवाट दर्ज की गई है. दिल्ली में लोग बुधवार सुबह जब सोकर उठे तो उन्हें आसपास घना कोहरा नज़र आया.

कोहरे की वजह से लोगों को सड़कों पर भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. विजिबिलिटी कम होने की वजह से गाड़ियों की रफ़्तार काफी धीमी रही.

मौसम विभाग के मुताबिक़ दिल्ली में न्यूनतम तापमान क़रीब दस डिग्री दर्ज किया गया.

वहीं अख़बारों में छपी ख़बर के मुताबिक़ विशेषज्ञों का कहना है कि दिल्ली की प्रदूषित हवा में सांस लेने से बच्चों में दिल और दिमाग से संबंधित बीमारियां कम उम्र में हो सकती हैं.

ख़बरों के मुताबिक जानकार मानते हैं कि सर्दी के मौसम में धुंध बढ़ने के साथ हवा में प्रदूषित कणों की समस्या और गहराएगी.

इमेज कॉपीरइट AP

वहीं नोटबंदी के बाद पैदा हुए हालात को टाइम्स ऑफ इंडिया ने पहली खबर बनाया है. एटीएम मशीनों के बाहर कतारें हैं और नगदी की कमी की वजह से लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं.

नरेंद्र मोदी ने भाजपा सांसदों से कहा है कि वे 8 नवंबर से 31 दिसंबर के बीच किए गए अपने बैंकिंग लेनदेने का ब्यौरा पार्टी को सौंपें.

टाइम्स ऑफ इंडिया अख़बार में छपी एक अन्य ख़बर के मुताबिक बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाक़ात के बाद आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने भी नोटबंदी का समर्थन किया है.

लालू ने कहा है कि वे सिर्फ़ नोटंबदी को लागू करने के तरीके का विरोध कर रहे थे. लालू का रुख़ विपक्षी पार्टियों के नोटबंदी पर विरोध को झटका साबित हो सकता है.

द हिन्दू अख़बार की ख़बर के अनुसार दिल्ली हाईकोर्ट ने एक फ़ैसले में कहा है कि वयस्क लड़के को माता पिता के खुद के बनाए घर में रहने का कोई क़ानूनी अधिकार नहीं है.

जज ने माता पिता की इच्छा के मुताबिक बेटे और बहू को घर छोड़ने का आदेश दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे