भगवान मुरुगन के मंदिर में लगी ई-हुंडी

नोटबंदी के बाद भगवान के मंदिरों में भी ई-हुंडी की व्यवस्था शुरू हो गई है.

भारत के दक्षिणी राज्य तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से क़रीब 80 किलोमीटर दूर स्थित तिरुतनी के प्रसिद्ध भगवान मुरुगन के मंदिर में भक्तों को ई- वॉलेट के जरिए चढ़ावे की सुविधा मुहैया कराई गई है.

मंदिर आने वाले भक्त भगवान मुरुगन को क्रेडिट और डेबिड कार्ड स्वाइप करते हुए 'भेंट' दे सकते हैं.

तिरुतनी मुरुगन मंदिर के अधिशाषी अधिकारी शिवाजी ने बीबीसी को बताया, "हमें जानकारी हुई कि 500 और 1000 रुपये नोट बंद होने के बाद बहुत सारे भक्त भगवान मुरुगन को 'भेंट' नहीं चढ़ा पा रहे थे. हमने इंडियन ओवरसीज़ बैंक के अधिकारियों से बात की और एक दिसंबर से ई- हुंडी की व्यवस्था हो गई. भक्तों ने कार्ड स्वाइप कराने के लिए कतार लगाना शुरु कर दिया है. "

इमेज कॉपीरइट TNHRCE

तिरुतनी के इस मंदिर में हर महीने क़रीब 80 लाख रुपये चढ़ावे के रूप में मिलते हैं. ये मंदिर आंध्र प्रदेश की सीमा के करीब है और बड़ी संख्या में भक्त यहां आते हैं.

शिवाजी ने ये भी बताया कि स्वाइप मशीन के जरिए चढ़ावा देने वाले पहले भक्त ने पांच हज़ार रुपये की भेंट दी. इस भक्त ने खुशी जाहिर की कि उसकी भेंट सीधे भगवान के बैंक एकाउंट में जाएगी.

उन्होंने कहा कि लोग इस पहल से खुश हैं और हमें बधाई दे रहे हैं. त्रिची के करीब श्रीरंगम के श्रीरंगनाथस्वामी मंदिर में भी ई-हुंडी की व्यवस्था की गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)