एमजीआर के बगल में दफ़न हुई जयललिता

इमेज कॉपीरइट AP

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता को मरीना बीच पर उनके राजनीतिक गुरू एमजीआर की कब्र के बगल में दफ़ना दिया गया है.

जयललिता का अंतिम संस्कार शशिकला ने किया.

उनके पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल से मरीना बीच ले जाया गया जहां उनकी अंतिम यात्रा में हज़ारों की संख्या में लोग शामिल हैं जिसमें देश के बड़े नेता भी थे.

इमेज कॉपीरइट @AIADMK

सोमवार को जयललिता का कार्डियक अरेस्ट के बाद रात 11.30 बजे निधन हो गया था.

तिरंगे में लिपटे उनके पार्थिव शरीर को लोगों के दर्शनों के लिए हॉल में रखा गया था.

वे चार बार राज्य की मुख्यमंत्री रह चुकी थी. उनके निधन के बाद ओ पनीरसेल्वम को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया गया है. पनीरसेल्वम को जयललिता का क़रीबी माना जाता था.

इमेज कॉपीरइट PMO INDIA

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री को श्रद्धांजलि देने चेन्नई पहुंचे.

जयललिता के सम्मान में केंद्र सरकार ने एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है.

तमिलनाडु में 7 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई है और सभी शैक्षणिक संस्थान भी 3 दिन तक बंद करने का ऐलान किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे