नए एयर फ़ोर्स वन विमानों का ऑर्डर रद्द हो: ट्रंप

इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का कहना है कि राष्ट्रपति के लिए ख़रीदे जा रहे दो नए विमानों की योजना रद्द की जानी चाहिए क्योंकि ये दोनों विमान काफ़ी महंगे साबित हो रहे हैं.

उनका कहना था कि इन दोनों नए एयर फ़ोर्स वन विमानों की क़ीमत चार अरब डॉलर के क़रीब होगी और वो नहीं चाहेंगे कि सरकार इतना बड़ा ख़र्च विमानों पर करे.

ट्रंप को अपना पद ग्रहण करने में अभी छह हफ्ते बाक़ी हैं. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ''बोईंग कंपनी अमरीका के भविष्य के राष्ट्पतियों के लिए एक नया 747 विमान बना रहा है लेकिन इसकी क़ीमत नियंत्रण से बाहर हो चुकी है. चार अरब से ज़्यादा. आर्डर रद्द किया जाना चाहिए.''

अमरीकी सरकार का बोईंग कंपनी के साथ दो या दो से ज़्यादा विमान बनवाने का अनुबंध है. ये विमान 2024 के आसपास सेवा में आएंगे.

ट्रंप के ट्वीट के बाद बोइंग के शेयरों में एक परसेंट की गिरावट दर्ज की गई है.

पाकिस्तान का दौरा करना चाहते हैं ट्रंप

महंगा होगा बोइंग का ठेका रद्द करना

इमेज कॉपीरइट AP

अगर ट्रंप चार साल बाद दोबारा राष्ट्रपति पद का चुनाव जीतते हैं तभी वो इन विमानों में यात्रा कर सकेंगे. हालांकि अमरीकी एयर फ़ोर्स ने बोइंग से अपील की है कि वो नया विमान जल्दी दें क्योंकि पुराने विमानों की रिपेयरिंग काफ़ी महंगी साबित हो रही है.

राष्ट्रपति के रूप में ट्रंप के पास ये ताक़त होगी कि वो बोइंग के साथ का क़रार रद्द कर दें.

हालांकि अगर ट्रंप पैसे बचाने के लिए बोइंग का ठेका रद्द करते हैं तो इससे पैसे का अधिक नुक़सान होगा क्योंकि अमरीकी सरकार बोईंग के साथ 170 मिलियन डॉलर के अनुबंध में है. साथ ही दो नए विमानों के लिए अतिरिक्त फंडिंग भी तय है.

स्वतंत्र रूप से सरकारी ख़र्चों का हिसाब करने वाले सरकारी जवाबदेही ऑफ़िस के अनुमान के मुताबिक़ दो नए विमानों की लागत 3.2 अरब डॉलर आती है. चूंकि ये नए विमान अभी डिजाइन के ही दौर में हैं और इसमें से काफ़ी पैसा अभी ख़र्च नहीं हुआ है इसलिए बहुत मुश्किल है कि ख़र्च 3.2 अरब डॉलर से अधिक हो.

हालांकि अमरीकी सरकार और बोइंग के साथ वार्ताओं के ज़रिए लागत थोड़ी कम और कराई जा सकती है लेकिन अगर ठेका रद्द हुआ तो अमरीकी सरकार को उन सारे पैसों से हाथ धोना पड़ेगा जो सरकार ने बोइंग को अब तक दिए हैं.

फ़िलहाल ट्रंप अपने निजी विमान से यात्रा करते हैं लेकिन राष्ट्रपति बनने जाने के बाद ख़ास तौर पर राष्ट्रपति के लिए डिज़ाइन किए गए एयर फ़ोर्स वन में यात्रा करेंगे.

बाद में अपने ट्वीट के बारे में ट्रंप ने रिपोर्टरों से कहा, ''हम चाहेंगे कि बोइंग पैसे बनाए लेकिन उतना नहीं जितना वो बना रहे हैं.''

बोइंग कंपनी के प्रवक्ता टॉड ब्लेचर ने एक बयान में कहा है कि, ''हम इस समय 170 मिलियन डॉलर के अनुबंध में हैं ताकि ये तय करें कि अमरीका के राष्ट्रपति की ख़ास ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए कैसे एक ख़ास तरह का विमान तैयार किया जाए. हम उम्मीद करते हैं कि यूएस एयर फ़ोर्स के साथ हम आगे काम करेंगे और अमरीकी करदाताओं के पैसों का उचित उपयोग हो और राष्ट्रपति के लिए बेहतरीन विमान तैयार किया जाए.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)