मैं बोलूंगा तो भूकंप आ जाएगा: राहुल गांधी

इमेज कॉपीरइट AP

नोटबंदी पर संसद में आज फिर हंगामे के बीच राज्यसभा और लोकसभा के कामकाज में रुकावट आई है.

संसद के बाहर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से कहा है, ''सरकार बहस से भाग रही है, अगर मुझे बोलने देंगे तो आप देखेंगे भूकंप आ जाएगा.''

भारत बंद: 'विपक्ष कितने पानी में है, नाप लीजिए'

कार्टून: नोटबंदी में विपक्ष के छुट्टे!

उद्योगपतियों को दिया जाएगा जनता का पैसा : राहुल

उन्होंने कहा कि नोटबंदी हिंदुस्तान के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला है.

नोटबंदी पर संसद के शीतकालीन सत्र में केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश कर रही विपक्षी पार्टियां प्रधानमंत्री के बयान की मांग कर रही हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा , ''प्रधानमंत्री पूरे देश में भाषण दे रहे हैं मगर लोकसभा में आने से डरते हैं. इतनी घबराहट क्यों?''

नज़रिया- 'क्या नोटबंदी ने एक नए भ्रष्टाचार को जन्म दिया'

एटीएम की लाइन में राहुल, ट्विटर पर चुहलबाज़ी

राहुल गांधी ने कहा, ''एक महीने से हम विमुद्रीकरण पर बहस की कोशिश कर रहे हैं, हम चाहते हैं दूध का दूध पानी का पानी हो जाए. ''

इमेज कॉपीरइट VAMDEV TEWARI

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा ,'' राहुल गांधी बहस से क्यों भाग रहे हैं? उनकी पार्टी किस दयनीय हालत में पहुंच गई है.''

नोटबंदी पर रविशंकर प्रसाद ने कहा कि देश का गरीब पूरी तरह सरकार के साथ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे