नोटबंदी के बाद करोड़ों का कैश पकड़ने के 7 बड़े मामले

इमेज कॉपीरइट AP

भारत में पांच सौ और हज़ार के पुराने नोटों को बंद करने के फैसले को एक महीने से अधिक हो चुका है.

एक तरफ जहां बैंकों में अभी भी नकदी के लिए लोगों की कतारें लगी हुई हैं वहीं देश के कई हिस्सों में बड़े पैमाने पर नई करेंसी में पैसे जब्त किए गए हैं.

पिछले एक हफ्ते में कई जगहों पर करोड़ों रुपए का कैश बरामद किया गया है जिसमें बड़े व्यापारी और बैंकों पर भी छापे पड़े हैं. सबसे ताज़ा घटना जयपुर की है.

यह भी पढ़ें

नोटबंदी- 50 दिनों का काउंटडाउन

वेनेजुएला भी चला मोदी की राह

एनआरआई को मिल रहा है दो टूक जवाब

सारे एटीएम तैयार फिर क्यों लंबी लंबी कतार

नकदी पकड़ने की अब तक की 7 बड़ी घटनाएं-

गुवाहाटी- असम पुलिस ने सोमवार को गुवाहाटी में एक बिज़नसमैन के घर पर छापा मारकर 1.55 करोड़ नकदी ज़ब्त किया है जो नए 2000 और 500 के नोटों में है.

जयपुर- सोमवार यानी 12 दिसंबर को ही पुलिस ने 93.52 लाख रूपए नई करेंसी में ज़ब्त किए. ये पैसे सात लोगों के पास से 2000 के नोटों में मिले हैं.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption एक तरफ बैंक कैश की समस्या से जूझ रहे हैं वहीं कई लोगों के पास करोडो़ं का कैश जब्त हो रहा है.

बैंगलुरू- आयकर के छापों में एक दिसंबर को 4.7 करोड़ रूपए दो लोगों से बरामद किए. इस घटना में 2000 के अलावा 500 और 100 रूपए के भी ढेर सारे नोट बरामद हुए और सोने के बिस्किट भी.

चेन्नई- आयकर विभाग ने आठ स्थानों पर छापे मारकर 90 करोड़ रूपए और 100 किलो सोना बरामद किया. आठ दिसंबर की इस घटना में बरामद 90 करोड़ में से कुछ नई करेंसी में और बाक़ी पुरानी करेंसी के नोट थे.

वेल्लोर- इस शहर में नौ दिसंबर एक वैन घूमती हुई पाई गई जिसमें ख़ासा कैश था. जब पुलिस ने वैन को रोक कर तलाशी ली तो इसमें से 24 करोड़ कैश निकला. ये पैसा कथित रूप से किसी उद्योगपति का था.

दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक स्थित एक्सिस बैंक पर आयकर ने छापे मारे. पता चला कि 44 जाली अकाउंटों में 100 करोड़ रूपए जमा किया गया था.

दिल्ली- दक्षिण दिल्ली में ग्यारह दिसंबर को मारे गए छापे में एक लॉ फ़र्म के दफ्तर से 13 करोड़ रूपए बरामद किए गए जिसका एक हिस्सा नई करेंसी में था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे