इंदिरा में नहीं था साहस: नरेंद्र मोदी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी में बड़े नोटों के विमुद्रीकरण का साहस नहीं था.

'द इंडियन एक्सप्रेस' के मुताबिक़ प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के सांसदों को संबोधित करते हुए कहा कि अगर 1970 के दशक में इंदिरा गांधी ने बड़े क़ीमत वाले नोटों के विमुद्रीकरण का साहस दिखाया होता तो देश को दिक्क़त भरी ऐसी स्थिति का सामना न करना होता.

'इंदिरा की तर्ज पर मोदी का उदय'

इंदिरा जैसी 'सख्त' छवि चाहेंगे नरेंद्र मोदी?

अख़बार के मुताबिक़ मोदी ने संकेत दिया कि सरकार ग़रीबों और मध्यवर्ग को 'शोषण से निजात' दिलाने के लिए कुछ और क़दम उठा सकती है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

'द हिंदू' ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की शुक्रवार को हुई मुलाक़ात की ख़बर को पहले पन्ने पर जगह दी है.

अख़बार की हेडिंग कहती है, "मोदी-राहुल की मुलाक़ात से विपक्ष की एकता टूटी."

'राहुल गांधी में बिल्कुल हिम्मत नहीं है'

TRP की राजनीति कर रहे हैं मोदी: राहुल

अख़बार ने लिखा है कि संसद का शीतकालीन सत्र विपक्ष के लिए कटु अनुभव के साथ ख़त्म हुआ. जतन से तैयार की गई एकता शुक्रवार को टूट गई.

अख़बार के मुताबिक़ 16 पार्टियों को नोटबंदी के मुद्दे पर राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाक़ात करनी थी.

इन पार्टियों में से ज्यादातर ने कांग्रेस नेताओं की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात पर नाराज़गी ज़ाहिर की.

अख़बार के मुताबिक़ प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस की ओर से उठाई गई किसानों की कर्ज़ माफी की मांग को ध्यान से सुना.

अख़बार ने सूत्रों के हवाले से बताया कि मोदी ने राहुल गांधी से कहा कि 'वो उनसे मिलते रहें.'

इमेज कॉपीरइट AP

'द टाइम्स ऑफ इंडिया' के मुताबिक़ सुप्रीम कोर्ट ने नोटबंदी की वैधता तय करने के लिए शुक्रवार को पांच जजों की बैंच गठित करने का निर्णय लिया है.

नोटबंदी पर सुप्रीम कोर्ट के 10 सवाल

अख़बार के मुताबिक़ कोर्ट ने अधिकारियों से कहा है कि वो इस बात का ध्यान रखें कि लोग हर हफ्ते अपने खातों से 24 हज़ार रुपये निकाल पाएं.

सरकार ने हर हफ्ते 24000 रुपये निकालने की सीमा निर्धारित की हुई है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption दिल्ली में बलात्कार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन (फाइल चित्र)

दिल्ली में बुधवार को एक महिला के साथ कथित बलात्कार का मामला दिल्ली से प्रकाशित सभी अख़बारों के पहले पन्ने पर है.

'द हिंदू' ने इस ख़बर की सुर्खी दी है, "निर्भया की बरसी की संध्या पर कार में महिला से बलात्कार."

द इंडियन एक्सप्रेस की सुर्खी है, "चार साल बाद 16 दिसंबर की कहानी. टैक्सी के अंदर रेप का आरोप."

'द टाइम्स ऑफ इंडिया' ने लिखा है कि बुधवार रात एक कार ड्राइवर ने 20 साल की महिला को नोएडा स्थित उसके घर तक छोड़ने का प्रस्ताव दिया था.

महिला का आरोप है कि ड्राइवर ने दक्षिणी दिल्ली के मोती बाग़ इलाक़े में उसके साथ बलात्कार किया.

इमेज कॉपीरइट AFP

'हिंदुस्तान टाइम्स' के मुताबिक टाटा संस के अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा का टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन पद से हाल फिलहाल हटने का कोई इरादा नहीं है.

सायरस मिस्त्री को नजरअंदाज करना टाटा के लिए संभव नहीं

अख़बार ने बताया है कि टाटा संस की ओर से शुक्रवार को जारी बयान में इस बारे में स्पष्टीकरण दिया गया है.

ये स्पष्टीकरण मीडिया में आई उन रिपोर्टों के बाद आया है जिनमें पूर्व निदेशक आरके कृष्ण कुमार के हवाले से बताया गया था कि रतन टाटा ट्रस्ट का चेयरमैन पद छोड़ देंगे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

'हिंदुस्तान टाइम्स' की एक ख़बर के मुताबिक रविवार को मुंबई में हुए हेलीकॉप्टर हादसे में बचे एक व्यक्ति का कहना है कि उनकी जान पेड़ों ने बचा ली.

अख़बार के मुताबिक़ संजीव शंकर नाम के इस शख्स का कहना है कि अगर वो सीधे ज़मीन पर गिरते तो उनकी जान नहीं बचती.

हादसे में शंकर की दो हड्डियां टूट गईं थीं.

हादसे में हेलीकॉप्टर के पायलट और एक अन्य शख्स की मौत हो गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे