केजरीवाल ने पूछा राहुल और मोदी के बीच क्या डील?'

इमेज कॉपीरइट AFP

आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मुलाक़ात पर सवाल उठाए हैं.

केजरीवाल ने कहा, "राहुल गांधी और मोदी के बीच क्या डील हुई है कि इस मुलाक़ात के बाद सरकार ने राजनीतिक पार्टियों के चंदों को जाँच से बाहर करने की घोषणा कर दी."

केजरीवाल ने कहा, "आश्चर्य ये हो रहा है कि कल राहुल गांधी नरेंद्र मोदी से मिले थे, उसके बाद ये घोषणा हुई है."

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नोटबंदी का मुखर विरोध कर रहे हैं.

वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी का समर्थन किया है.

पढ़ेंः केजरीवाल: मोदी जी पहले खुद त्याग करें

पढ़ेंः मंत्री के बारे में ट्विटर पर गलत-बयानी कर फंसे केजरीवाल

पढ़ेंः ओआरओपी पर मोदी ने झूठ बोला: केजरीवाल

इमेज कॉपीरइट AFP/reuters

उन्होंने कहा, "राहुल ने कहा था कि उनके पास मोदी के भ्रष्टाचार के सबूत हैं. फिर वो मोदीजी से मिले और ये घोषणा हो गई. तो क्या दोनों के बीच कोई डील हुई है?"

केजरीवाल ने कहा, "पहले राहुल नरेंद्र मोदी के भ्रष्टाचार के सबूतों की बात करते हैं और उन्हीं से जाकर मिल लेते हैं. मैं राहुल से कहूंगा कि वो अपने पास मौजूद सबूतों को सार्वजनिक करें."

केजरीवाल ने कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों को मिली चंदे की हर रक़म की जाँच होनी चाहिए.

उन्होंने ये भी कहा कि तेल के दामों में हुई बढ़ौत्तरी भी नोटबंदी से जुड़ी है क्योंकि नोटबंदी के कारण रुपया अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कमज़ोर हो रहा है.

केजरीवाल ने कहा, "ये दुख की बात है कि देश के लोगों को लाइनों में लगाकर प्रधानमंत्री मोदी राजनीतिक पार्टियों का कालाधन सफ़ेद करने में लगे हैं."

इमेज कॉपीरइट Reuters

केजरीवाल ने कहा, "भाजपा ने नोटबंदी के बाद जमकर लोगों का पैसा इकट्ठा किया है जिसे वो सफ़ेद करने जा रही है. हम पहले से ही प्रधानमंत्री की नीयत पर शक़ करते रहे हैं."

उन्होंने कहा, "राहुल गांधी को डर लग रहा है, वो सिर्फ़ बोल रहे हैं कि मेरे पास सबूत हैं और कल वो डील करके आ गए."

पढ़ें- नरेंद्र मोदी के बाण तो राहुल गांधी के तीर

मैं बोलूंगा तो भूकंप आ जाएगा: राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में कहा था कि उनके पास प्रधानमंत्री मोदी के निजी भ्रष्टाचार के सबूत हैं.

राहुल ने ये भी कहा था कि अगर वो संसद में बोलोंगे तो भूचाल आ जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)