सपा-कांग्रेस 'गठजोड़' के पीछे बीजेपी का हाथ: मायावती

इमेज कॉपीरइट AFP

बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने सपा और कांग्रेस पर बीजेपी के साथ मिलकर राजनीति करने का इल्ज़ाम लगाया है.

मायावती ने प्रेस कांफ्रेस कर कहा है कि सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन को बीजेपी के इशारे का इंतजार है. बीजेपी की मर्जी के मुताबिक ही इस पर आख़िरी मुहर लगेगी.

और ऐसा तब होगा जब बीजेपी को लगेगा कि इन दोनों के साथ आने से उसे सीधा फ़ायदा पहुंचेगा.

उत्तर प्रदेश में मुसलमान क्या करेंगे?

नज़रिया- 'मायावती उत्तर प्रदेश में रहेंगी या मिटेंगी?'

नज़रिया: 'जीती हुई लड़ाई में पिछड़ने लगी है बीजेपी'

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने मुस्लिम समाज को इस गठबंधन से सावधान रहने को कहा है.

उन्होंने कहा, "शुरू से ही मौजूदा सपा सरकार के बीजेपी के साथ मधुर संबंध रहे हैं और सपा सरकार की मुस्लिम समाज को लेकर भेदभाव वाली सोच और कार्यशैली रही है."

इमेज कॉपीरइट Reuters

उन्होंने सपा पर इल्जाम लगाते हुए कहा कि संप्रादायिक दंगों में इनका रिकॉर्ड बहुत ख़राब रहा है. मुलायम सिंह की सरकार ने चुनावी मकसद से वोटों का ध्रुवीकरण करने के लिए कार सेवकों पर अयोध्या में गोली चलवाई थी.

'बसपा का रिजेक्टेड माल ले रही है भाजपा'

'अभद्र भाषा' पर भाजपा-बसपा में ठनी

पिछले दिनों सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन की ख़बरें आती रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे