प्रेस रिव्यूः '31 दिसंबर के बाद पुराने नोट रखना अपराध'

इमेज कॉपीरइट AFP

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में ख़बर हैकि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 500 और 1000 रूपए के पुराने नोटों के चलन को स्थायी रूप से रोकने के लिए एक अध्यादेश को मंज़ूरी दे दी है जिससे 31 दिसंबर के बाद बड़ी संख्या में ऐसे नोटों को रखना एक अपराध माना जाएगा. हालाँकि लोग 31 मार्च तक रिज़र्व बैंक की चुनिंदा शाखाओं में पुराने नोट जमा करा सकेंगे. अध्यादेश के तहत एक तय सीमा से अधिक नोट पाए जाने पर उस व्यक्ति पर पाँच हज़ार रूपए या पुराने नोटों में मिली राशि का पाँच गुना जुर्माना लगाया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट PTI

हिन्दुस्तान टाइम्स के पहले पन्ने पर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के भीतर मुलायम सिंह यादव परिवार के बीच जारी शक्ति संघर्ष की ख़बर है. अख़बार में लिखा है कि मुलायम सिंह यादव ने अगले साल होनेवाले चुनाव के लिए अखिलेश यादव की भेजी उम्मीदवारों की लिस्ट को ख़ारिज कर दिया और साथ ये भी कह डाला कि पार्टी किसी मुख्यमंत्री के दावेदार के बिना चुनाव में उतरेगी. इसके बाद अखिलेश यादव ने भी जवाब दिया और संदीप और सुरभि शुक्ला को पार्टी से निकाल दिया जिन्हें उनके चाचा शिवपाल यादव का करीबी माना जाता है.

जनसत्ता में भी यूपी चुनाव की ख़बर है जिसमें लिखा है कि अखिलेश के दो ख़ास सिपहसालारों के टिकट काटने के बावजूद मुलायम सिंह यादव को लगता है कि जिन प्रत्याशियों के नामों का ऐलान हुआ है उनके टिकट नहीं काटे जाएँगे.

इमेज कॉपीरइट EPA

इंडियन एक्सप्रेस में ख़बर है कि सुरेश कलमाडी की इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन का आजीवन अध्यक्ष बनने का कार्यकाल 24 घंटे से भी कम समय तक चला जब उन्होंने खुद इसे स्वीकार करने से मना कर दिया. उन्हें और अभय चौटाला की आजीवन सदस्यता के फ़ैसले का खेल मंत्री विजय गोयल के अलावा एक पूर्व खेल मंत्री और एसोसिएशन के एक प्रभावशाली सदस्य ने विरोध किया था.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

हिंदू में एक ख़बर है कि केंद्र सरकार ने स्कूल बसों में इंटरनेट नहीं चलने देनेवाले जैमर लगाने का सुझाव दिया है जिससे कि इन बसों में बच्चों के साथ सफ़र कर रहे व्यक्ति मोबाइल फ़ोन जैसे डिवाइस पर अश्लील पोर्न सामग्रियों का इस्तेमाल ना कर सकें. सरकार ने इस संबंध में दायर एक याचिका का जवाब देते हुए ये सुझाव दिया है. हालाँकि मानव संसाधन मंत्रालय ने स्कूल के परिसरों में ऐसे जैमर लगाने के सुझाव को व्यावहारिक नहीं बताया है क्योंकि इससे स्कूल में बच्चों के इंटरनेट के प्रयोग में रूकावट आ सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे