अखिलेश की छवि चमकाने के लिए सपा ने रचा नाटक: भाजपा

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
'नाटक कर रही है समाजवादी पार्टी'

भारतीय जनता पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य का मानना है कि समाजवादी पार्टी का मौजूदा संकट सुनियोजत तरीके से रचा गया 'नाटक' है, जिसका मक़सद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की छवि चमकाना है.

यह ख़बरें भी देखें:

राम मंदिर चाहते हैं यूपी के नए बीजेपी प्रमुख

दयाशंकर को सभी पदों से हटाया बीजेपी

भाजपा पर क्यों मुलायम हैं सपा नेता?

इमेज कॉपीरइट KESHAV PRASAD MAURYA FB

बीबीसी से ख़ास बातचीत में उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा के बढ़ते प्रभाव के मद्देनज़र सपा ने यह मान लिया कि अगले चुनाव में उनकी हार तय है. लिहाजा, उन्होंने अखिलेश की छवि चमकाने की नीति अपनाई है.

समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अखिलेश और रामगोपाल यादव को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित करने का ऐलान किया था, लेकिन 18 घंटे बाद ही इस फैसले को पलट दिया गया.

मौर्य कहते हैं, "पूरा घटनाक्रम नाटक था. जनता इसे पूरी तरह समझती है. वह सपा की साइकिल को पंक्चर ही नहीं करेगी, उसे टुकड़े टुकड़े कर देगी और प्रदेश में कमल खिलेगा."

इमेज कॉपीरइट AFP

मौर्य ने मुख्यमंत्री पर राज्य का विकास करने में पूरी तरह नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए कहते हैं कि उनका कार्यकाल विफलताओं से भरा हुआ है.

उन्होंने कहा, "अखिलेश ने अपने वायदे पूरे नहीं किए, क़ानून व्यवस्था क़ायम करने में नाकाम रहे, युवाओं को रोज़गार नहीं दे सके."

मौर्य के मुताबिक़, समाजवादी पार्टी की सर्वे रिपोर्ट ही कहती है कि चुनाव में उसे 50 से ज़्यादा सीटें नहीं मिलने वाली है. ऐसे में उनके पास इस तरह के नाटक के अलावा कोई चारा नहीं .

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार