प्रेस रिव्यू: '2000 के नोट से बापू ग़ायब'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने लिखा है कि 2 हज़ार के नए असली नोटों की एक गड्डी से महात्मा गांधी की तस्वीर ग़ायब है.

मध्यप्रदेश के शिवपुर में एक गांव में किसानों को स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया से मिले दो हज़ार के नए नोटों पर बापू की तस्वीर नहीं थी.

इन किसानों ने सोचा कि ये नकली नोट हैं और इसकी शिकायत बैंक से की तो बैंक का कहना है कि ये नोट असली हैं.

बैंक अधिकारियों के मुताबिक़ प्रिंटिंग में हुई गड़बड़ की वजह से ऐसा हुआ हो सकता है.

पुलिस और बैंक अधिकारी मानते हैं कि इस इलाके में ऐसे कई नोट मौजूद हैं जिन पर महात्मा गांधी तस्वीर नहीं छपी है.

इमेज कॉपीरइट www.maharashtratourism.gov.in

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने लिखा है कि महाराष्ट्र में पुणे के पास लोनावला में एक क़िले के पास कैंप में रह रहे ट्रकरों के एक समूह को नए साल की पूर्व संध्या पर पीटा गया.

पुलिस ने बुधवार को इसके बारे में जानकारी दी है.

पुलिस का कहना है कि 10 से 12 पुरुषों और महिलाओं ने इन लोगों को पीटा और पुरुष ट्रैकरों के कपड़े भी उतरवाए.

ये लोग अपने आपको 'धरोहरों के रक्षक ' बता रहे थे.

वीसापुर क़िले में नए साल का जश्न मनाने आए पीड़ितों ने एक वेबसाइट के ज़रिए रजिस्ट्रेशन करवाया था.

इससे पहले 31 दिसंबर की रात बेंगलुरू में महिलाओं से छेड़छाड़ का मामला भी सामने आ चुका है.

36 साल की पुणे की एक महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है जिसके मुताबिक 10 से 12 लोगों ने डंडों और बेल्ट से कथित तौर पर ट्रैकरों को पीटा.

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों की तारीख़ें घोषित करने के साथ चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में दायर एक जनहित याचिका के जवाब में कहा है कि जनप्रतिनिधित्व कानून में सुधार की ज़रूरत है.

चुनाव आयोग ने ज़ोर देकर कहा है कि चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के लिए अपनी, अपनी पत्नी और बच्चों की आमदनी के स्रोत के बारे में अपने हलफ़नामे में जानकारी देना अनिवार्य किया जाना चाहिए.

इमेज कॉपीरइट PIB

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि चुनाव से पहले बजट की तारीख में बदलाव की किसी भी संभावना से इनकार करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि इसकी कोई ज़रूरत नहीं है.

विपक्षी पार्टियों ने बजट की तारीख को लेकर आपत्ति जताई है.

कांग्रेस, बसपा और समाजवादी पार्टी समेत अन्य पार्टियां इस संबंध में चुनाव आयुक्त से मुलाकात करने वाली हैं.

अरुण जेटली ने कहा कि ये वो पार्टियां है जो नोटबंदी को असफल मानती हैं तो फिर उन्हें बजट की चिंता क्यों है.

चुनाव आयोग ने कल चुनाव की तारीखें घोषित कर दी हैं जो चार फरवरी से आठ मार्च के बीच कराए जाएंगे और 11 मार्च को सभी चुनावों के नतीजे आएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे