मैं पैदाइशी कांग्रेसी, ये मेरी घरवापसी है: सिद्धू

इमेज कॉपीरइट AFP

भाजपा को टाटा कहने और कुछ वक़्त पसोपेश में गुज़ारने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस में शामिल हो गए हैं.

उन्होंने कहा कि वो पैदाइशी कांग्रेसी हैं और ये उनकी घरवापसी हैं. राहुल गांधी से मुलाक़ात के अगले रोज़ बतौर कांग्रेसी नेता पहले संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए सिद्धू ने पंजाब की बादल सरकार पर एक के बाद एक, कई ज़बानी तीर चलाए:

कांग्रेस की 'पिच' पर कैप्टन के साथ कब तक टिकेंगे सिद्धू

पत्नी के बाद अब सिद्धू भी कांग्रेस में शामिल

1. बादल सरकार के बारे में

सिद्धू ने कहा, ''भाग बादल भाग, कुर्सी खाली कर कि पंजाब की जनता आती है.'' उन्होंने कहा कि पंजाब को ड्रग्स ने बर्बाद कर दिया है. सिद्धू ने कहा, ''जो नौजवान तगड़े होते थे, उनके शरीर पेंसिल जैसे हो गए हैं.

हर रोज़ नौजवान तिल-तिल कर मर रहे हैं. ये सिद्धू की निजी लड़ाई नहीं है ये. ये पंजाब की लड़ाई है.''

2. पंजाब के बारे में

सिद्धू ने कहा कि भारत का अन्नदाता राज्य 1,88,000 करोड़ का कर्ज़ ढो रहा है, क्योंकि सरकारी ख़ज़ाना लूटा गया है.

उन्होंने कहा, ''अकाली दल पवित्र जमात होती थी, अब जायदाद बन गई है. स्टेट को मारकर धंधा किया जा रहा है. मैं बताऊंगा कि पंजाब को कैसे बेचा गया. मैं पोल खोलूंगा इनकी.''

इमेज कॉपीरइट AFP

3. अमरिंदर सिंह के बारे में

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ अतीत में रहे मतभेदों के बारे में उन्होंने कहा, ''लोकतंत्र में मतभेद होते हैं, मनभेद नहीं होते हैं. फूल टूटकर दोबारा खिल सकते हैं, सूखे दरियाओं में पानी आ सकता है तो दो लोगों के शक-शुबह दूर क्यों नहीं हो सकते. लालू-नीतीश इकट्ठा हो सकते हैं, तो हम क्यों नहीं हो सकते.''

क्या उनके तहत काम करने को तैयार हैं, इस पर उन्होंने कहा, ''मैं किसी के तहत भी काम करने को तैयार हूं. जिसे कांग्रेस आला कमान तय करेगा, उसका सिपाही बनकर लड़ूंगा.''

4. कांग्रेस चुनने में इतनी देर क्यों?

नवजोत सिंह से जब पूछा गया कि पहले वो आम आदमी पार्टी में जाने वाले थे, ऐसे में क्या महत्वांकाक्षा की वजह से कांग्रेस में आए, इस पर उन्होंने कहा, ''मोलभाव इसे कहते हैं कि मुझे ये चाहिए, मुझे वो चाहिए. आपने केजरीवाल की बात की और उन्होंने ख़ुद कहा कि सिद्धू ने कुछ नहीं मांगा. भाजपा के साथ मेरा कोई मनमुटाव नहीं था. लेकिन उन्होंने (अकाली दल संग) गठबंधन को चुना, मैंने पंजाब को चुना.''

इमेज कॉपीरइट AFP

5. क्या आप सीएम हो सकते हैं?

क्या कांग्रेस के चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने और ज़िम्मा दिए जाने पर वो सीएम बन सकते हैं, इस पर सिद्धू ने कहा, ''गेंहू खेत में, बेटा पेट में, तुम ब्याह की तैयारी कर रहे हो. राजनीति में अगर-मगर नहीं चलता. मेरी चाची के मूंछे होतीं, तो मैं उन्हें चाचा ना कहता.''

6. आपका मुक़ाबला किससे है?

सिद्धू ने कहा, ''मैं पंजाब की तरफ़ हूं. मुझे कोई लालच नहीं है. जब आप लड़ाई के लिए उतरते हैं तो नफ़ा-नुकसान नहीं देखा जाता. पंजाब को नीलाम कर अपने कारोबार चलाए गए हैं, ये लड़ाई इसके ख़िलाफ़ है.''

इमेज कॉपीरइट Twitter/@sherryontopp

7. कांग्रेस नेताओं के बारे में क्या-क्या कहा?

इस पर सिद्धू बोले, ''राहुल गांधी का मैंने कोई नाम नहीं लिया था. पहले वालों (मनमोहन सिंह) का लिया था. राजनीतिक भाषणों में ऐसा होता है. मुझे भी काफ़ी कुछ कहा गया. सागर की बात करो, कुएं के मेंढक मत बनो.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे