केजरीवाल बुज़दिल है: अमरिंदर सिंह

इमेज कॉपीरइट AFP

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल में हिम्मत है तो वो लांबी से चुनाव लड़ें जहां से वो और प्रकाश सिंह बादल मैदान में हैं.

कांग्रेस नेता का कहना है कि केजरीवाल पहले देखना चाहते हैं कि पंजाब में उनकी सरकार बनेगी या नहीं, उसके बाद वे दिल्ली के मुख्यमंत्री का पद छोड़कर पंजाब आएंगे.

केजरीवाल को पहले भी कई बार अपने ख़िलाफ़ चुनाव लड़ने का चैलेंज दे चुके अमरिंदर ने कहा, "केजरीवाल में लड़ने की हिम्मत नहीं है. अगर उन्हें अपनी लोकप्रियता साबित करनी है तो लांबी से चुनाव लड़ने आएं. मैं और बादल तो चुनाव लड़ ही रहे हैं."

कैप्टन ने केजरीवाल को बुज़दिल क़रार दिया.

अमरिंदर सिंह इस बात को सिरे से ख़ारिज करते हैं कि आम आदमी पार्टी पंजाब में कांग्रेस को किसी भी तरह से कोई नुक़सान पहुंचा सकती है.

उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में उनकी स्थिति अच्छी थी. नौजवानों में गुस्सा था, उन्हें कुछ नज़र नहीं आ रहा था. नौजवानों को लगा कि अकालियों, बीजेपी और कांग्रेस को देख लिया है इसलिए इन्हें भी देख लो. लेकिन आज हालात बदल चुके हैं. पिछले दो-ढाई साल में इनकी स्थिति बहुत नीचे जा चुकी है.

इमेज कॉपीरइट PTI

वो कहते हैं कि बादल ने पंजाब के साथ जो किया है, उन्हें लांबी से हराकर वे एक क़िस्म से बदला लेंगे.

उन्होंने कहा कि लांबी सीट से प्रकाश सिंह बादल के हारने के बाद दुनिया को पता चल जाएगा कि जो ताक़त का इस्तेमाल सिर्फ़ अपने लिए करते हैं, उनका यही हश्र होता है.

इमेज कॉपीरइट AP

कैप्टन अमरिंदर सिंह का दावा है कि पंजाब विधानसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी 100 फ़ीसदी जीत रही है. साथ ही अमरिंदर सिंह का कहना है कि आगामी चुनाव बादल परिवार के लिए जीवन मरण का सवाल बन गई है. उन्होंने कहा कि अकाली दल और बीजेपी गठबंधन की लोकप्रियता बहुत नीचे जा चुकी है और आम आदमी पार्टी की लोकप्रियता बहुत तेज़ी से नीचे जा रही है.

अमरिंदर का कहना था ये उनका आख़िरी चुनाव होगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

नवजोत सिंह सिद्धू के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने पर उन्होंने खुशी ज़ाहिर की और साथ उम्मीद भी जताई कि इससे पार्टी को सौ फ़ीसदी फ़ायदा पहुंचेगा.

अमरिंदर ने कहा कि वे सिद्धू को तब से जानते हैं जब वे छोटे बच्चे थे और क्रिकेट खेलते थे.

सिद्धू का परिवार भी पटियाला से ही है और उन दोनों के परिवारों के आपसी ताल्लुकात भी रहे हैं. अमरिंदर ने कहा कि उन्होंने वादा किया है कि वे नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी को पंजाब में योग्य स्थान देंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)