प्रेस रिव्यूः'एटीएम से एक ही बार में 24,000'

इमेज कॉपीरइट Reuters

हिन्दुस्तान टाइम्स में एक ख़बर है कि आने वाले दिनों में लोग एटीएम से एक बार में 24,000 रुपए निकाल पाएँगे. अख़बार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि नोटबंदी के तीन महीने बाद नक़द की किल्लत में सुधार को देखते हुए सरकार इस बारे में विचार कर रही है.

हालाँकि अख़बार के अनुसार हफ़्ते में 24,000 रुपए निकालने की सीमा में फ़रवरी के अंत तक कोई बदलाव नहीं होने की उम्मीद है. फ़िलहाल लोग एक हफ़्ते में 24,000 रुपए निकाल सकते हैं, मगर एटीएम से एक बार में केवल 10,000 रुपए ही निकाले जा सकते हैं.

हिंदू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जालंधर रैली का ज़िक्र है. अख़बार ने लिखा है कि उन्होंने वहाँ कांग्रेस को एक डूबता हुआ जहाज़ बताया क्योंकि ये उन्हें कहीं नहीं ले जाएगा.

उन्होंने साथ ही इस रैली में राजनीतिक रूप से संवेदनशील सतलज यमुना नहर की बात की और कहा कि पंजाब को सिंचाई के लिए इसके पानी के इस्तेमाल का अधिकर है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में बहनेवाली सिंधु नदी का जो पानी पाकिस्तान में बर्बाद होता है उसे वापस पंजाब लाया जाएगा.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में एक ख़बर है कि भारत में अब 18 वर्ष की उम्र के 99 प्रतिशत से ज़्यादा लोगों के पास आधार कार्ड हो गए हैं. अब तक 111 करोड़ लोगों ने ख़ुद को रजिस्टर करवा लिया है. अख़बार ने लिखा है कि अब सरकार अपनी समाज कल्याण योजनाओं में आधार कार्ड नंबर के इस्तेमाल में तेज़ी लाने के लिए तैयार हो रही है क्योंकि इससे गड़बड़ियाँ रोकने में मदद मिलेगी.

इंडियन एक्सप्रेस में ख़बर है कि यौन प्रताड़ना के आरोपों के बाद मेघालय के राज्यपाल के पद से इस्तीफ़ा देनेवाले षणमुगनाथन ने इस्तीफ़ा देने से पहले एक महिला उम्मीदवार को सामान्य प्रक्रिया से अलग जाकर उसकी नियुक्ति करवाई. अख़बार ने दस्तावेज़ों और कुछ लोगों से बात कर अपनी एक ख़ास रिपोर्ट प्रकाशित की है. अख़बार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि षणमुगनाथन ने अपना इस्तीफ़ा इटानगर से भेजा और फिर कल वो गुवाहाटी होते हुए दिल्ली चले गए.

दैनिक जागरण की फ़िल्म पद्मावती की शूटिंग के दौरान हंगामे की ख़बर है. अख़बार लिखता है कि फ़िल्म में चित्तौड़ की महारानी पद्मावती को जिस तरह से दिखाया जा रहा है, उसे लेकर प्रदर्शनकारियों को एतराज़ था और इसका विरोध करने आए लोगों ने सेट पर जमकर तोड़-फोड़ की.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे