राष्ट्रपति के अभिभाषण की प्रमुख बातें

प्रणव मुखर्जी इमेज कॉपीरइट LSTV
Image caption संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अभिभाषण से सोमवार को बजट सत्र की शुरुआत हो गई. प्रणब मुखर्जी ने संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित किया. मोदी सरकार ने पिछले दिनों ये फ़ैसला लिया था कि औपनिवेशिक काल की परंपरा से अलग अब आम बजट एक फ़रवरी को पेश किया जाएगा. तर्क ये था कि नए वित्तीय वर्ष से पूर्व बजट पारित करने से संबंधित प्रक्रियाएं पूरी हो जाएं.

मंगलवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश करेंगे. बुधवार को आम बजट पेश किया जाएगा. पहली बार ऐसा हो रहा है जब आम और रेल बजट को एक साथ पेश किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक पार्टियों से बजट सत्र शांतिपूर्ण तरीके से चलने देने का आग्रह किया है.

इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption प्रधानमंत्री ने बजट सत्र शांतिपूर्ण तरीके से चलाने की अपील की

राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में मोदी सरकार की नीतियों की तारीफ़ की. उन्होंने कहा कि सरकार ने काला धन और बेनामी संपत्ति के ख़िलाफ़ क़दम उठाए हैं. प्रणव मुखर्जी ने कहा कि सरकार ने आतंकवाद को भी मुंहतोड़ जवाब दिया है. राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार 'सबका साथ सबका विकास' को लेकर प्रतिबद्ध है.

2017 में बजट से क्या हैं उम्मीदें?

राष्ट्रपति के अभिभाषण की महत्वपूर्ण बातें-

  • रेल बजट को आम बजट में शामिल किए जाने से यह अपने आप में ऐतिहासिक बजट है.
  • सरकार ने ग़रीबों की ज़िंदगी बेहतर करने के लिए कई क़दम उठाए हैं.
  • हमलोग यहां एक बार फिर से लोकतंत्र का उत्सव मनाने के लिए जुटे हैं.
  • सरकार ने काले धन और बेनामी संपत्ति के लिए काम किए हैं
  • 1.5 करोड़ लोगों को मुफ़्त में एलपीजी कनेक्शन मुहैया कराया जा चुका है.
Image caption राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ बजट सत्र हुआ शुरू
  • सरकार कृषि में आमूलचूल विकास की कोशिश कर रही है.
  • 1.5 लाख डाकघर भुगतान बैंकों के रूप में काम करने लगे हैं.
  • हमारी सरकार की प्राथमिकाताओं में ग़रीब, दलित, पिछड़े, वंचित, किसान, मजदूर और युवा सबसे पहले हैं.
  • हमारी सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय दर्शन पर चल रही है.
  • जनधन योजना के तहत 26 करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट खोले गए.
  • सरकार की प्रतिबद्धता के कारण विदेशी निवेश में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई.
  • हमारी सरकार ने आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे