बजट में रेलवे से जुड़ी अहम घोषणाएं

रेल बजट

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने चौथा आम बजट पेश करते हुए रेलवे से जुड़ी भी कई अहम घोषणाएं कीं. इस वित्तीय वर्ष से रेल बजट को आम बजट में ही शामिल कर दिया गया है. वित्त मंत्री ने कहा कि वह स्वतंत्र भारत में दोनों बजट एक साथ पेश करते हुए सम्मानित महसूस कर रहे हैं. जेटली ने रेल से जुड़ी ये अहम घोषणाएं कीं-

  • यात्रियों की सुरक्षा पर सरकार एक लाख करोड़ खर्च करेगी.
  • आईआरसीटीसी के ज़रिए ई-टिकट बुकिंग्स के दौरान अब अलग से सर्विस चार्ज नहीं लगेगा.
  • रेलवे की तीन बड़ी कंपनियां- आईआरसीटीसी, आईआरएफ़सी और इरकॉन शेयर बाज़ार में उतरेंगी
  • 500 रेलवे स्टेशनों को शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए सुविधाजनक बनाया जाएगा.
  • 1.31 लाख करोड़ रेलवे के विकास पर खर्च किया जाएगा.
  • रेलवे का मुख्य फोकस- यात्री सुरक्षा, सफ़ाई और विकास है.
  • 2019 तक भारतीय रेलवे के सभी कोच बायो-टॉइलेट से लैस हो जाएंगे.
  • मानवरहित क्रॉसिंग को 2020 तक ख़त्म कर दिया जाएगा.
  • यात्रा के दौरान कोच से जुड़ी समस्याओं को सुलझाने के लिए कोच मित्रों की नियुक्ति होगी.
  • एक नई मेट्रो रेल नीति की घोषणा होगी जिससे नई नौकरी पैदा करने में मदद मिलेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे