रेनकोट पहनकर नहाने की कला मनमोहन से सीखें: मोदी

मोदी इमेज कॉपीरइट LSTV
Image caption राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए मोदी

राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी घेरा.

मोदी ने कहा कि उनके कार्यकाल में इतने भ्रष्टाचार हुए, लेकिन उन पर एक दाग़ तक नहीं लगा. मोदी ने कहा कि बाथरूम में रेनकोट पहनकर नहाने की कला तो कोई डॉक्टर साहब से सीखे. मोदी के इस बयान के बाद कांग्रेस राज्यसभा से वॉकआउट कर गई.

जब मोदी मनमोहन सिंह को घेर रहे थे तो वे राज्यसभा में बैठे थे. मोदी की इस टिप्पणी पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई. इस पर मोदी ने कहा कि आप हमला बोलते हैं तो हमला सहने की क्षमता भी रखनी चाहिए.

मोदी ने कहा कि इंदिरा गांधी के वक्त में काला धन के ख़िलाफ़ एक कमेटी बनाई गई थी. इस कमेटी ने नोटबंदी की सिफारिश की थी लेकिन इंदिरा जी ने कहा कि उन्हें चुनाव लड़ना है. यह गोड़बोले की किताब में लिखा है.

इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption बेहद आक्रामक अंदाज में मोदी ने कांग्रेस पर बोला हमला

इस पर ग़ुलाम नबी आजाद ने कड़ा ऐतराज जताया. इस पर मोदी ने तल्ख़ अंदाज में का कि अगर यह ग़लत था तो आपने गोड़बोले पर केस क्यों नहीं किया. तब क्या आप सो रहे थे. मैं होता तो केस करता.

मोदी ने कहा कि नोटबंदी का फ़ैसला भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ था न किसी राजनीति पार्टी के ख़िलाफ़. मोदी ने कहा कि नोटबंदी के कारण आतंकवाद और नक्सलवाद लगाम लगी है. उन्होंने कहा कि माओवादियों ने सरेंडर करना शुरू कर दिया.

मोदी ने कहा, ''देश की व्यवस्था में धन होना ज़रूरी है. अब बैंको के पास इतने पैसे आए हैं कि लोगों को कर्ज देने में मदद मिलेगी. श्रमिकों को नोटबंदी के फ़ायदा मिलने वाला है. इतना बड़ा फ़ैसला कभी हुआ नहीं था. दुनिया के अर्थशास्त्री इसका अंदाज़ा नहीं लगा पा रहे हैं. देश की जनशक्ति क्या होती है यह नोटबंदी से पता चला. नोटबंदी के दौरान साफ़ दिखा कि नेता का मिज़ाज एक तरफ और जनता का मिज़ाज एक तरफ. यहां सरकार और जनता एक साथ थी.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे