उत्तर प्रदेश चुनाव में 997 उम्मीदवार करोड़पति

इमेज कॉपीरइट Reuters

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में मैदान में उतरे 997 उम्मीदार करोड़पति हैं.

ये 997 करोड़पति महज़ 3048 उम्मीदवारों में से हैं जोकि 262 सीटों पर अपनी क़िस्मत आज़मा रहे हैं.

पूरे सुबे में ऐसे करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या इससे भी ज़्यादा हो सकती है. क्योंकि एक तो सभी विधानसभाओं के उम्मीदवारों की सूची का आकलन होना बाक़ी है. दूसरे 739 ने अपना पैन विवरण नहीं दिया है.

ये आंकड़े एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स या एडीआर ने उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनावों को लेकर जारी किए हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

चौथे चरण में जिसके लिए 23 फरवरी को मतदान होगा, 189 उम्मीदवार करोड़पति हैं. इस चरण में बहुजन समाज पार्टी सबसे ज्यादा 45 प्रत्याशी करोड़पति हैं.

इस चरण में कुल 680 उम्मीदवार मैदान में हैं. इनमें से 116 प्रत्याशियों पर अपराधिक मामले चल रहे हैं.

ELECTION SPECIAL: 'तुम्हारे आज़मगढ़ में इतने माफ़िया और टेरेरिस्ट क्यों रहते हैं?'

ELECTION SPECIAL: पहले लर्नर्स लाइसेंस था, अब सीख गए हैं राजनीति- अखिलेश यादव

इमेज कॉपीरइट AFP

एडीआर के शनिवार को चौथे चरण के उम्मीदवारों के बारे में जानकारी साझा करते हुए रिपोर्ट में बताया गया है कि बसपा के 53 उम्मीदवारों में से 45 उम्मीदवार करोड़पति हैं. बीजेपी के 48 उम्मीदवारों में से 36 उम्मीदवार करोड़पति हैं. सपा के 33 उम्मीदवारों में से 26 उम्मीदवार करोड़पति हैं. कांग्रेस ने भी अपने 25 उम्मीदवारों में से 17 करोड़पति उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. राष्ट्रीय लोक दल के 39 उम्मीदवारों में से 6 उम्मीदवारों करोड़पति हैं.

एडीआर के अनुसार चौथे चरण में सभी उम्मीदवारों की औसत आय 1.90 करोड़ रुपए है.

इस चरण में निर्दलीय प्रत्याशी सुभाष चंद्र सबसे अमीर प्रत्याशी हैं. इनके पास लगभग 70 करोड़ की संपत्ति है.

इमेज कॉपीरइट EPA

इनके बाद भारतीय जनता पार्टी के इलाहाबाद दक्षिण से उम्मीदवार नंद गोपाल गुप्ता नंदी का नबंर हैं. इनके पास लगभग 57 करोड़ की संपत्ति हैं.

तीसरे नंबर पर बसपा के फूलपूर से उम्मीदवार मोहम्मद मसरूर शेख हैं, इनके पास 32 करोड़ की संपत्ति हैं.

रविवार को यूपी में तीसरे चरण के लिए मतदान होने जा रहा है.

इसमें अखिलेश यादव के गृह जनपद इटावा, मैनपुरी और आसपास की कुल 69 सीटों पर मतदान होने हैं.

यहां की 55 सीटों पर समाजवादी पार्टी का कब्जा है. विधानसभा चुनाव 2012 में बसपा को 6, बीजेपी को 5 और कांग्रेस को 2 सीटें और एक सीट निर्दलीय को मिली थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे