अब गुरमेहर कौर की सुरक्षा को लेकर परिवार चिंतित

गुरमेहर कौर इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (एबीवीपी) के ख़िलाफ़ ऑनलाइन अभियान छेड़ने की वजह से चर्चा में आई गुरमेहर कौर के परिवार को अब उनकी सुरक्षा की चिंता परेशान कर रही है.

गुरमेहर कौर के दादा कंवलजीत सिंह ने जलंधर के डिप्टी कमिश्नर को इस सिलसिले में बुधवार को एक ज्ञापन सौंपा. कंवलजीत सिंह ने 'सिख तालमेल कमेटी' के साथ जाकर जलंधर के डिप्टी कमिश्नर कमल किशोर यादव को मेमोरैंडम दिया है.

उन्होंने अपील की है कि गुरमेहर के मामले में एफ़आइआर में दर्ज सभी नामज़द अभियुक्तों को तुरंत गिरफ़्तार किया जाए और पढ़ाई के दौरान उसकी सुरक्षा का प्रबंध किया जाए. डिप्टी कमिश्नर ने उन्हें उनकी मांग दिल्ली सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिया है.

काश मैं भी विरोध प्रदर्शन में होती: गुरमेहर कौर

मेरे दोस्तों को रेप की धमकी दी गई - गुरमेहर कौर

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

सिख तालमेल कमिटी के हरपाल सिंह चड्ढा ने कहा, "उस लड़की ने शांति की अपील की. लेकिन कुछ समाज विरोधी तत्वों ने ग़लत तरीके से मामले को पेश किया और उसके बयानों को तोड़-मरोड़ कर पेश करना शुरू कर दिया. हम गुरमेहर के साथ खड़े हैं और जलंधर के डिप्टी कमिश्नर को हमने ज्ञापन सौंपा है. हमने अपील की है कि सभी अभियुक्तों को तुरंत गिरफ़्तार किया जाए."

सुरक्षा के इंतज़ाम

गुरमेहर के दादा कंवलजीत ने कहा कि मीडिया ने उनका काफी साथ दिया है और सब लोग उनके साथ हैं. उन्हें पूरा विश्वास है कि गुरमेहर का कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता. लेकिन गुरमेहर की पढ़ाई के दौरान कोई ऊंच-नीच ना हो जाए इसलिए उसकी सुरक्षा के लिए उन्होंने इस ज्ञापन के माध्यम से अपील की है.

इस मामले में कमल किशोर यादव ने कहा, "हमने इन लोगों की सारी बात सुन ली है और इनका मेमोरैंडम दिल्ली पहुंचाएंगे. यहां भी गुरमेहर की सुरक्षा का इंतज़ाम कर लिया गया है. अगर ज़रूरत पड़ी तो उनकी सुरक्षा और बढ़ा देंगे."

जलंधर के पुलिस कमिश्नर ने मीडिया रिपोर्ट्स का संज्ञान ले कर पहले ही गुरमेहर की सुरक्षा के लिए दो महिला कॉन्स्टेबल लगा दिए हैं.

गुरमेहर कौर के पोस्टर के पीछे जो वीडियो है, उसकी पूरी कहानी ये रही

इमेज कॉपीरइट TWITTER

दिल्ली के रामजस कॉलेज में दक्षिणपंथी और वामपंथी विचारधारा वाले छात्र गुटों के बीच हुई झड़प के बाद गुरमेहर ने दक्षिणपंथी छात्र संगठन एबीवीपी के ख़िलाफ फ़ेसबुक पर अपनी प्रोफ़ाइल पिक्चर बदली थी.

गुरमेहर का पक्ष लेने वालों को देश से निकाल देना चाहिए: अनिल विज

22 फ़रवरी, 2017 के इस पोस्ट में गुरमेहर एक पोस्टर के साथ दिख रही हैं. इस पर लिखा है, ''मैं दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा हूं. मैं एबीवीपी से नहीं डरती. मैं अकेली नहीं हूं. भारत का हर छात्र मेरे साथ है. #StudentsAgainstABVP''

इमेज कॉपीरइट Youtube

लेकिन बवाल इस पर नहीं हुआ. हंगामा मचा गुरमेहर की उस तस्वीर पर जिसमें वो एक प्लेकार्ड लिए खड़ी हैं. इस पर अंग्रेज़ी में लिखा है, ''पाकिस्तान ने मेरे पिता को नहीं मारा, बल्कि जंग ने मारा है.''

धमकी मिलने की गुरमेहर कौर की शिकायत पर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच साइबर यूनिट ने केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच की जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे