अब सहवाग को लेकर बैकफुट पर जावेद अख़्तर

जावेद अख़्तर इमेज कॉपीरइट Twitter

गुरमेहर कौर मामले में मशहूर गीतकार और फ़िल्मकार जावेद अख़्तर ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग की आलोचना की थी. जावेद ने सहवाग को दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर पर ट्वीट को लेकर घेरा था. अब जावेद अख़्तर ने सहवाग को लेकर जिन कड़े शब्दों का इस्तेमाल किया था उन्हें वापस ले लिया है.

जावेद अख़्तर ने ट्वीट कर कहा, ''बेशक सहवाग एक महान खिलाड़ी हैं. उन्होंने साफ़ कर दिया है कि उनका ट्वीट मज़ाकिया था न कि गुरमेहर के ख़िलाफ़ है. मैंने उनके ख़िलाफ़ जिन कड़े शब्दों का इस्तेमाल किया था उन्हें अब वापस लेता हूं.''

इमेज कॉपीरइट Witter

दो मार्च ने जावेद अख़्तर ने गुरमेहर मामले में सहवाग और योगेश्वर दत्त को लेकर कड़ी टिप्पणी की थी. उन्होंने इन दोनों पर शायद ही पढ़े-लिखे होने की टिप्पणी की थी.

'20 साल में पहली बार डिफ़ेंसिव हुए सहवाग'

गुरमेहर मामला: जावेद अख़्तर ने किया सहवाग का अपमान?

जावेद के इस ट्वीट को लेकर सैकड़ों लोग सहवाग के बचाव में उतर आए थे. लोगों ने जावेद अख़्तर से कहा कि जिस खिलाड़ी को पद्मश्री से सम्मानित किया जा चुका है उसके ख़िलाफ़ इस तरह की भाषा अच्छी नहीं है. सहवाग को 1999 में पद्मश्री मिला था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

20 साल की गुरमेहर सैनिक की बेटी हैं. इनके पिता कश्मीर के कुपवाड़ा में 1999 में मारे गए थे. हाल ही में गुरमेहर को एबीवीपी का विरोध करने के कारण ट्रोल का सामना करना पड़ा था. गुरमेहर को रेप की भी धमकी मिली थी.

इससे पहले 2016 के वीडियो में गुरमेहर ने कहा था कि उनके पिता को पाकिस्तान ने नहीं युद्ध ने मारा था. गुरमेहर की इसलिए भी काफी आलोचना हुई थी.

सहवाग ने इसी तर्ज पर एक ट्वीट कर दिया था कि तिहरा शतक उन्होंने नहीं बल्कि उनके बैट ने मारा था. इस ट्वीट के लिए सहवाग की काफी आलोचना हो रही थी. उन पर आरोप लगाया गया कि सहवाग ने अपने ट्वीट से गुरमेहर को ट्रोल करने वालों की मदद की है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

इसके बाद सहवाग ने कई ट्वीट कर अपना पक्ष रखा. उन्होंने कहा कि उनका ट्वीट गुरमेहर के ख़िलाफ़ नहीं था बल्कि हंसी-मजाक में किया गया था. सहवाग ने कहा कि उनके ट्वीट की ग़लत व्याख्या की गई. सहवाग ने कहा कि गुरमेहर को अपनी बात रखने का पूरा हक़ है.

बाद में गुरमेहर कौर ने भी ट्वीट कर कहा कि वह अब इस कैंपेन से बाहर होती हैं. जावेद अख़्तर ने इस मामले में क्रिकेटर गौतम गंभीर की तारीफ़ की थी. गौतम गंभीर ने कहा था कि उन्हें गुरमेहर कौर को ट्रोल किए जाने से निराशा हुई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे