ELECTION SPECIAL: भाजपा का दावा, मणिपुर होगा 'कांग्रेस मुक्त'

  • 6 मार्च 2017
भाबनंद सिंह, मणिपुर भाजपा के अध्यक्ष
Image caption भाबनंद सिंह, मणिपुर भाजपा के अध्यक्ष

भारतीय जनता पार्टी की मणिपुर इकाई के अध्यक्ष भाबनंद सिंह राज्य विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत को लेकर बड़े दावे कर रहे हैं.

बीबीसी से हुई बातचीत में उन्होंने दावा किया कि विधानसभा चुनाव में पार्टी को कम से कम 40 सीटें मिलेंगी और भाजपा की ही सरकार बनेगी. कांग्रेस और दूसरे दलों को कुछेक सीटें ही मिल पाएंगी.

भाबनंद कहते हैं, "राज्य कांग्रेस मुक्त हो जाएगा."

सिंह ज़ोर देकर कहते हैं कि मुख्यमंत्री पद का कोई घोषित उम्मीदवार नहीं है और चुनाव के बाद ही यह तय किया जाएगा.

मणिपुर: क्या बीजेपी तोड़ पाएगी इबोबी का वर्चस्व

मणिपुर चुनाव में कहां खड़ी है बीजेपी?

इमेज कॉपीरइट DILIP SHARMA

भाबनंद सिंह का कहना है कि मणिपुर में आर्म्ड फ़ोर्सेज़ स्पेशल पावर्स एक्ट (अफ़्स्पा) की ज़रूरत नहीं है, लिहाज़ा इसे वहां से हटाया जा सकता है.

विकास का मुद्दा

उन्होंने कहा, "किस जगह अफ़्स्पा लगाना है ये वहां के हालात पर निर्भर करता है. मणिपुर में अभी स्थिति सुधरी हुई है, लिहाजा यहां इस समय अफ़्स्पा की ज़रूरत नहीं है. लेकिन इसे हटाने का फ़ैसला केंद्र सरकार का ही होगा. यह कोई मुद्दा नहीं है."

उनके मुताबिक़, इस बार विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा भ्रष्टाचार का है. इसके अलावा भाजपा ने विकास का मुद्दा भी उठाया है.

नारियल जूस पर कौन ग़लत - राहुल या मोदी

इबोबी चौथी बार बन पाएंगे मणिपुर के सीएम?

इमेज कॉपीरइट DILIP SHARMA
Image caption भाजपा ने मुख्यमंत्री इबोबी सिंह पर फ़र्ज़ी मुठभेड़ कराने के आरोप लगाए हैं

भाबनंद ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री इबोबी सिंह ने कई फ़र्ज़ी मुठभेड़ कराई हैं, उनके ख़िलाफ़ यह मुद्दा भी उठाया गया है.

नगा समझौता

भाबनंद सिंह ज़ोर देकर कहते हैं कि नगा समझौते के तहत मणिपुर का कोई हिस्सा किसी सूरत में नगालैंड को नहीं दिया जाएगा.

उनका तर्क है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं राज्य के लोगों को वहां जाकर इसका भरोसा दिला चुके हैं और अविश्वास करने की कोई वजह नहीं है.

मणिपुर में क्यों गुस्से में हैं प्रदर्शनकारी?

इंफ़ाल में हिंसा के बाद कर्फ्यू, इंटरनेट बंद

भाबनंद सिंह मणिपुर में आर्थिक नाकेबंदी के लिए कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहराते हैं.

सिंह कहते हैं कि यह नाकेबंदी कांग्रेस और यूनाइटेड नगा काउंसिल की मिलीभगत की वजह से है. यह एक तरह का 'फ़िक्स्ड मैच' है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे