'लालटेन लेकर खोज रहे हैं कहां है क्योटो?'

  • 7 मार्च 2017
इमेज कॉपीरइट PTI

राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव का दावा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'सभी मोर्चों पर फेल हो चुके हैं' और उत्तर प्रदेश के लोगों का उनसे 'मोहभंग हो गया है'.

वो कहते हैं कि नोटबंदी से भारतीय जनता पार्टी के 'हार्डकोर वोटर की रीढ़ टूट चुकी है'. इस बीच में चुनाव आया है और भारतीय जनता पार्टी को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है.

राष्ट्रीय जनता दल ने उत्तर प्रदेश चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं लेकिन लालू प्रसाद यादव ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई ज़िलों में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन के पक्ष में प्रचार किया.

मोदी के ख़िलाफ़ लालू की लालटेन में तेल नहीं

वाराणसी में बीजेपी दिग्गजों का जमावड़ा क्यों?

इमेज कॉपीरइट AFP

लालू प्रसाद सोमवार को वाराणसी में थे. प्रचार थमने के पहले उन्होंने गठबंधन के पक्ष में तीन रैलियां कीं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वाराणसी में तीन दिन तक लगातार प्रचार किया.

फोन के जरिए बीबीसी से बातचीत में लालू प्रसाद ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में हर तरफ अखिलेश यादव की आंधी चल रही है और प्रधानमंत्री मोदी गायब हो गए हैं.

लालू प्रसाद ने कहा, "अखिलेश की आंधी में उधिया (उड़) गए हैं. पचासों सभा हमने किया. हमने देखा है कि नरेंद्र मोदी से बिल्कुल मोहभंग हो गया है. चार से दिन से पूरा मंत्रिमंडल लेकर बनारस में घूम रहे हैं नुक्कड़-नुक्कड़ गली-गली जा रहे हैं. देवी देवता के स्थान पर जा रहे हैं."

वाराणसी क्यों बनी है बीजेपी की नाक का सवाल?

इमेज कॉपीरइट Reuters

प्रधानमंत्री मोदी के वाराणसी के विकास के दावों पर भी उन्होंने सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी स्विस बैंक से काला धन लाने समेत कोई वादा पूरा नहीं कर सके. इसलिए लोग उनसे नाराज़ हैं.

लालू प्रसाद ने कहा, " (मोदी) बनारस में तो धूल चाट रहे हैं. कुछ किया ही नहीं बनारस में. बोला था क्योटो शहर बनाएंगे. लालटेन लेकर हम खोज रहे हैं कहां क्योटो है? गंगा मइया खोज रही है कि मेरा बेटा कहां गया?"

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह जो दावे कर रहे हैं, वो एक तरह का सॉइक्लॉजिकल वार (मनोवैज्ञानिक युद्ध) है. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर सांप्रदायिक कार्ड खेलने का आरोप भी लगाया.

लालू प्रसाद ने कहा, "ये इतने तबाह हो गए हैं कि वोटरों को कम्युनिलाइज करने का बहुत कोशिश किया. गोरखपुर में माइनॉरिटी के मोहल्लों में जाकर जय श्रीराम का नारा लगाया और चारों तरफ कब्रिस्तान और शमशान की चर्चा की. लेकिन न हिंदू सुन रहे हैं न मुस्लिम. बिल्कुल इनको नकार दिया है लोगों ने."

इमेज कॉपीरइट TWITTER

लालू प्रसाद दावा करते हैं कि अखिलेश यादव की अगुवाई में समाजवादी पार्टी-कांग्रेस गठबंधन को सवा तीन सौ के करीब सीटें मिलेंगी.

लालू ने मोदी को 'ट्विटर राजा' कहा, हुई ट्रोलिंग

गोरक्षा पर मोदी के बयान हमारी जीत: लालू

हालांकि, भारतीय जनता पार्टी इस गठबंधन पर लगातार सवाल उठाती रही है. प्रधानमंत्री मोदी और भारतीय जनता पार्टी ने अखिलेश यादव के विकास के दावों पर भी सवाल उठाए हैं. पारिवारिक झगड़े को लेकर भी सवाल उठाए जा रहे हैं.

इस पर लालू प्रसाद कहते हैं कि परिवार में कोई झगड़ा नहीं है.

इमेज कॉपीरइट PTI

वो अखिलेश सरकार के काम भी गिनाते हैं, "अखिलेश ने जितना काम किया, उतना शायद ही कहीं काम हुआ हो. चाहे बिजली का हो, रोड का हो, किसानों का हो, लैपटॉप देने का सवाल हो, पेंशन देने का हो, महिलाओं का सवाल हो, या अस्पताल का हो या लॉ एंड ऑर्डर का सवाल हो. अखिलेश ने बहुत काम किया. मेट्रो लाया. और गोमती नदी को बढ़िया बना दिया. आगरा से लेकर सैफई होते हुए सिक्स लेन रोड 18 महीने के अंदर बनकर के उसपर मिग और फाइटर प्लेन को भी लैंड करा दिया. इसीलिए नरेंद्र मोदी काम पर चर्चा नहीं करते."

उत्तर प्रदेश के चुनाव को देश का चुनाव बताने वाले लालू प्रसाद ये भी दावा करते हैं कि नरेंद्र मोदी की उल्टी गिनती शुरु हो गई है. लालू प्रसाद का दावा है कि प्रदेश के वोटर भारतीय जनता पार्टी को पलटी मारेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)