पेटीएम पर चीनी कंपनी अलीबाबा का नियंत्रण और बढ़ा

  • 7 मार्च 2017
पेटीएम इमेज कॉपीरइट MONEY SHARMA/AFP/Getty Images

रिलायंस कैपिटल ने डिजिटल पेमेंट फर्म पेटीएम में अपनी एक फीसदी हिस्सेदारी बेच दी है.

चीन के अलीबाबा समूह ने इस एक फीसदी हिस्सेदारी के लिए अनिल अंबानी की कंपनी को 275 करोड़ रुपये चुकाए हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक रिलायंस कैपिटल को इस सौदे से बड़ा मुनाफा हुआ है.

रिलायंस समूह की इस कंपनी ने पेटीएम में इस हिस्सेदारी के लिए 10 करोड़ रुपये का निवेश किया था.

इस सौदे के बाद पेटीएम की आर्थिक हैसियत बढ़कर 4 अरब डॉलर से ज्यादा हो गई है.

वायरल वीडियो पर पेटीएम सीईओ ने तोड़ी चुप्पी

'एटीएम है नहीं और पेटीएम हम जानते नहीं'

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
पेटीएम के सीईओ से ख़ास बातचीत

पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट दी है कि पेटीएम में निवेश के कारण रिलायंस कैपिटल को पेटीएम ई-कॉमर्स में भी हिस्सेदारी हासिल है.

रिलायंस कैपिटल को पेटीएम ई-कॉमर्स में हिस्सेदारी के लिए अलग से कोई निवेश नहीं करना पड़ा है.

फंड इकट्ठा करने की ताजा मुहिम के तहत पेटीएम ई-कॉमर्स की हैसियत एक अरब डॉलर आंकी गई है.

कैसे होगा कैशलेस जब मोबाइल पेमेंट से है खतरा

'पीएम का फ़ैसला, पेटीएम को फायदा'

नोटबंदी- 'डिजिटल भुगतान से घटेगी ग़रीबी'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे