लोकतंत्र में समझाने से नहीं, बहकाने से वोट मिलता है-अखिलेश

  • 11 मार्च 2017
इमेज कॉपीरइट Reuters

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों में समाजवादी पार्टी को मिली करारी हार के बाद पार्टी नेता अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी कार्यकर्ताओं का धन्यवाद किया और कहा कि जनता ने उन्हें काम करने का मौका दिया और कहा कि आनेवाली सरकार और अच्छा काम करेगी.

उन्होंने उत्तर प्रदेश की जनता को बधाई देते हुए कहा कि 'लोकत्रंत में जो निर्णय होता है वो सही होता है, मैं जनता के फ़ैसले को स्वीकार करता हूं.'

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने ईवीएम में गड़बड़ी का सवाल उठाया है और कहा है कि इसी गड़बड़ी की वजह से पार्टी की हार हुई.

इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि बीएसपी नेता ने ईवीएम पर जो सवाल उठाया है सरकार को इसकी जांच करवानी चाहिए.

अखिलेश यादव ने कांग्रेस के साथ गठबंधन पर खुशी ज़ाहिर की और कहा कि 'दो युवा नेता साथ आए. गठबंधन आगे भी रहेगा.'

जनादेश को स्वीकार करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि 'हमने पांच साल अच्छा काम किया है, लेकिन शायद जनता इससे भी अच्छा काम चाहती है.'

इमेज कॉपीरइट Reuters

उन्होंने कहा कि शायद जनता ने एक्सप्रेस वे की बजाए बुलेट ट्रेन के लिए वोट किया हो.

पार्टी की हार स्वीकारते हुए भी उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा कि बीजेपी को बताना चाहिए कि 'लूट में, डकैती में कौन-सा प्रदेश आगे है. कभी-कभी लोकतंत्र में समझाने से वोट नहीं, बहकाने से वोट मिलता है.'

अखिलेश यादव ने कहा कि 'नोटबंदी का फ़ायदा ग़रीबों को मिलेगा ऐसा लोगों का विश्वास था. अब देखूंगा कि कितना पैसा ग़रीबों के घरों तक पहुंचता है.'

प्रेस कॉन्फ़्रेंस में अखिलेश यादव ने अपने पांच साल के शासनकाल में सपा सरकार के कामकाज का ज़िक्र किया और कहा, 'समाजवादियों ने प्रदेश में अच्छा काम किया है. मुझे देखना है कि हमसे भी अच्छा क्या काम करती है नई सरकार.'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)