जर्मनी की तुर्की को चेतावनी, बंद करे नाज़ियों से तुलना

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जर्मन चांसलर अंगेला मैर्कल ने तुर्की के राष्ट्रपति को चेतावनी दी है कि वो जर्मन अधिकारियों की नाज़ियों से तुलना बंद करें.

चांसलर मैर्कल ने कहा है कि अगर राष्ट्रपति रिचप तैयप एर्दोवान ऐसा करना बंद नहीं करते तो तुर्क नेताओँ के और प्रचार कार्यक्रमों पर भी रोक लगाई जा सकती है.

जर्मन अधिकारियों ने तुर्क वोटरों को लुभाने के लिए जर्मनी में की जा रही रैलियों पर प्रतिबंध लगा दिया है.

राष्ट्रपति तैयप अपने अधिकारों को बढ़ाने की मंजूरी के लिए होने वाले जनमत संग्रह के लिए तुर्क मतदाताओं को लुभाने में जुटे हैं.

रविवार को एर्दोवान ने कहा, "आप लोग इस वक्त नाज़ी तरीकों का इस्तेमाल कर रहे हो"

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टीवी पर प्रसारित एक भाषण में एर्दोवान ने ये भी कहा, "जब हम उन्हें नाज़ी कहते हैं तो वे(यूरोप) असहज हो जाते हैं. वो एकजुटता दिखाने के लिए साथ आते हैं. ख़ासतौर से मैर्कल"

इस भाषण में एर्दोवान ख़ासतौर से राष्ट्रपति मैर्कल को संबोधित करते नज़र आए जब उन्होंने कहा कि जर्मनी "नाज़ी तरीकों का इस्तेमाल कर रहा है," क्योंकि उन्होंने तुर्क भाषा में अनौपचारिक "तुम" का प्रयोग किया.

"नाजियों जैसा बर्ताव कर रहे हैं जर्मन अधिकारी"

सोमवार को हनोवर की एक न्यूज़ कांफ्रेंस में मैर्कल ने कहा, "मेरा ये कहना कि नाज़ी तुलना जरूर बंद हो अभी भी लागू होता है. कोई किंतु परंतु नहीं." मैर्कल के साथ इस कांफ्रेंस में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे भी थे.

एर्दोवान की टिप्पणियों के जवाब में मैर्कल ने कहा कि जर्मनी के पास सारे अधिकार सुरक्षित हैं. इनमें "सभी जरूरी उपाय करने के साथ ही भविष्य के कार्यक्रमों की समीक्षा भी शामिल है जिनकी अनुमति पहले ही दी जा चुकी है."

मैर्केल ने कहा कि इस तरह के बयान "उन सभी वर्जनाओं को तोड़ती है, बिना उन लोगों की पीड़ा का विचार किए जिन्हें सज़ा दी गई या फिर उनकी हत्या की गई" नाज़ियों के हाथों.

इमेज कॉपीरइट AP

इसके साथ ही मैर्कल ने जोड़ा कि तुर्क राजनेताओं के कार्यक्रम "जर्मन संवैधानिक क़ानून के सिद्धांतों के आधार पर ही हो सकते हैं."

तुर्की: तख़्तापलट के विरोध में विशाल रैली

सोमवार को दोनों देशों में तेज़ हुई ज़ुबानी के बीच तुर्की के उप प्रधानमंत्री नुमान कुर्तुल्मस ने कहा कि जर्मनी तुर्की के आंतरिक मामलों में उलझ रहा है. उन्होंने ये भी कहा कि जर्मन अख़बारों में तुर्की के बारे में इतनी सारी सुर्खियां, "स्वीकार्य नहीं" हैं.

तुर्की और यूरोपीय संघ के कई देशों के बीच ये विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है. जर्मन विदेश मंत्री सिग्मार गाब्रिएल ने रविवार को कहा कि उनका देश सहिष्णु है लेकिन मूर्ख नहीं और उन्होंने अपने तुर्क समकक्ष को भी बहुत साफ साफ बता दिया है कि सीमा रेखा तोड़ी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे