जब आदित्यनाथ योगी ने कहा था- राम मंदिर ही मेरा मिशन है

  • 22 मार्च 2017
योगी आदित्यनाथ इमेज कॉपीरइट Yogi Adityanath

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी जनसभाओं में जितने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं, वही तस्वीर उनकी सोशल मीडिया पर भी है.

योगी की वेबसाइट के होम पेज पर एक पंक्ति है जिेसमें लिखा है, ''हिन्दू राष्ट्र की संचेतना है, इस पर प्रहार महाप्रलय को आमंत्रण है.''

कैसे तैयार हुई उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की टीम?

इसी वेबसाइट ने गोहत्या पर एक सर्वे भी कराया है. वेबसाइट पर विजिटर्स से इस सर्वे में हिस्सा लेने के लिए कहा गया है. इस सर्वे में सवाल पूछा गया है कि क्या गोहत्या रोकने के लिए कठिन क़ानून बनाया जाना चाहिए? यह सर्वे एक महीना पहले शुरू किया गया था. अब तक सर्वे में 98 फ़ीसदी लोगों ने कड़ा क़ानून बनाने का समर्थन किया है.

नज़रिया: योगी आदित्यनाथ को संघ ने बनवाया मुख्यमंत्री

इमेज कॉपीरइट Yogi Adityanath

यूपी के नए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की वेबसाइट पर कई लेख भी प्रकाशित किए हैं. 'ख़तरे में हिन्दू' टाइटल से एक लेख में कहा गया है कि धर्म बदलने से राष्ट्रीयता बदल जाती है. लेख में कहा गया है कि इसी वजह से पाकिस्तान, अफ़गानिस्तान और बांग्लादेश भारत के दुश्मन बन गए हैं.

कॉलेज के ज़माने में कैसे थे योगी आदित्यनाथ?

'लहूलुहान कश्मीर' नाम से एक लेख में लिखा गया है, 'इस्लाम के बर्बर, हिंसक और अत्यामारी चेहरे को पहचानने में भूल कर रहे हैं.''

योगी ट्विटर पर भी विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं. एक जुलाई 2016 को योगी ने ट्वीट किया था, ''लोग खा रहे यहाँ का और गा रहे पाकिस्तान का, ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

दो मई 2016 को आदित्यनाथ ने ट्वीट किया था, ''राम मंदिर चुनावी मुद्दा नहीं..मेरे लिए जीवन का मिशन है.'' हालांकि राम मंदिर का मामला अब भी कोर्ट में लंबित है. एक कार्यक्रम में बॉलीवुड अभिनेता आमिर ख़ान ने देश में बढ़ती असहनशीलता का ज़िक्र किया था.

इस पर 24 नवंबर 2015 को आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा था, ''आमिर अगर देश छोड़ना चाहते हैं तो उन्हें ऐसा करने से किसी ने नहीं रोका, उनके ऐसा करने से देश की आबादी कम करने में मदद मिलेगी.''

इमेज कॉपीरइट Twitter

घर में गोमांस होने के शक के दादारी में अखलाक नाम के शख़्स की भीड़ द्वारा हत्या के बाद सरकार से मिले मुआवजे पर भी आदित्यनाथ ने सवाल उठाया था. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि गो मांस खाने वालों को सम्मान क्यों?

इमेज कॉपीरइट Twitter
इमेज कॉपीरइट twitter

ट्विटर पर उनके 289, 154 फॉलोअर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)