प्रेस रिव्यू: बहुत महंगा पड़ेगा शराब पीकर गाड़ी चलाना

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर जुर्माना पाँच गुना बढ़ाकर 10 हज़ार रुपये कर दिया गया है. यदि शराब पीकर गाड़ी चलाने के दौरान हुई दुर्घटना में किसी की जान चली जाती है तो अब ये ग़ैर ज़मानती अपराध होगा और इसके लिए 10 साल तक की सज़ा हो सकती है.

इंडियन एक्सप्रेस की ही एक और ख़बर के अनुसार भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई अब सभी क्रिकेटरों को भुगतान ऑनलाइन करेगा. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासनिक कमेटी ने ये फ़ैसला लिया है. यानी अब न सिर्फ़ विराट कोहली और उनकी टीम इंडिया को पेमेंट ऑनलाइन मिलेगा, बल्कि सभी घरेलू पुरुष और महिला क्रिकेटरों को इसी माध्यम से भुगतान किया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर देश की सबसे बड़ी सड़क सुरंग का उद्घाटन करेंगे. उधमपुर ज़िले के चेनानी में बनी इस सुरंग के बाद जम्मू और श्रीनगर के बीच का सफर तय करने में दो घंटे बचेंगे.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की ख़बर के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड के तीन ज़िलों में शराब की बिक्री पर प्रतिबंध के नैनीताल हाईकोर्ट के फ़ैसले पर रोक लगा दी है. मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की खंडपीठ ने ये फैसला दिया. हाईकोर्ट ने रुद्रप्रयाग, चमोली और उत्तरकाशी ज़िलों में शराब बिक्री पर प्रतिबंध का आदेश दिया था. बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमनोत्री और गंगोत्री जाने वाले लाखों तीर्थयात्री इन्हीं ज़िलों से होकर गुजरते हैं.

इमेज कॉपीरइट CGDPR

टेलीग्राफ की खबर के अनुसार छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि गायों की हत्‍या करने वालों को फांसी पर लटका दिया जाएगा. जब रमन सिंह से पूछा गया कि क्‍या छत्तीसगढ़ में भी गोहत्‍या के ख़िलाफ़ कोई कानून बनेगा, तब रमन सिंह ने ये बातें कहीं. उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई हो रही है, जबकि एक और भाजपा शासित राज्य गुजरात में गोहत्या पर आजीवन कारावास की सज़ा का क़ानून बनाया गया है.

इकोनॉमिक टाइम्स की ख़बर के मुताबिक हरियाणा सरकार किसी परिवार में तीसरी लड़की के जन्म पर 21,000 रुपये का अनुदान देगी. यह अनुदान 24 अगस्त 2015 के बाद जन्मी बच्चियों के लिए दिया जाएगा. ऐसा 'आपकी बेटी, हमारी बेटी' योजना के तहत किया जा रहा है. योजना के तहत हर धर्म, जाति और आय वर्ग के लोगों को यह राशि दी जाएगी. अगर परिवार में पहले से कोई बेटा है तब भी तीसरी बेटी के जन्म पर यह अनुदान दिया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)