प्रेस रिव्यू: 'योगी की हिंदू वाहिनी डिमांड में, रोज़ाना 5000 आवेदन'

  • 3 अप्रैल 2017
योगी आदित्यनाथ इमेज कॉपीरइट YOGI ADITYANATH

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हिंदू युवा वाहिनी से जुड़ने की इच्छा रखने वालों की तादाद में लगातार बढ़ोतरी हो रही है.

अख़बार ने वाहिनी के पदाधिकारियों के हवाले से कहा है कि रोज़ाना औसतन 5000 तक अर्ज़ियां मिल रही हैं.

योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में साल 2002 में हिंदू युवा वाहिनी का गठन किया था.

अख़बार का दावा है कि योगी के मुख्यमंत्री बनने से पहले तक वाहिनी को औसतन रोज़ाना 500 से 1000 आवेदन मिलते थे.

इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक योगी की हिंदू युवा वाहिनी में सदस्यों को जोड़ने के लिए कड़ी स्क्रूटनी की जा रही है.

आवेदकों से आधार और मतदाता पहचान पत्र की जानकारी भी मांगी जा रही है.

इमेज कॉपीरइट PIB

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार नीति आयोग निजी सेक्टर के एक्सपर्ट के लिए दरवाज़े खोलने की योजना बना रहा है.

नीति आयोग में अब तक सरकारी संस्थानों के नौकरशाह ही आवेदन करते रहे हैं, लेकिन नीति आयोग अब सचिव स्तर से लेकर तमाम तरह के पदों पर निजी क्षेत्र के लोगों को नियुक्ति देने की तैयारी कर रहा है.

इमेज कॉपीरइट EPA

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक चुनाव आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी की आम आदमी पार्टी की शिकायत को ख़ारिज कर दिया है.

अखबार के अनुसार आयोग ने कहा है कि पंजाब में हार के लिए ईवीएम को दोष देने की बजाय पार्टी को हार के कारणों का मंथन करना चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)