अलवर हमलाः जो हमें पता है और जो नहीं पता

  • 6 अप्रैल 2017

राजस्थान के अलवर में कथित गौरक्षकों के हमले में घायल हुए एक व्यक्ति पहलू खां की मौत हो गई है.

अलवर के बहरोड थाना क्षेत्र में जयपुर से गायें ख़रीद कर हरियाणा के नूंह ले जा रहे एक समूह पर शनिवार शाम को कथित गौररक्षकों ने हमला किया था.

हमले में बाल बाल बचे अज़मत ने कहा कि पुलिस न आती तो हमलावर उन्हें जला कर मारने वाले थे.

'पुलिस न आती तो वो हमें ज़िंदा जलाने वाले थे..'

राजस्थानः कथित गौरक्षकों के हमले में एक की मौत

'पिता की मौत के बाद भी उन्हें देख नहीं सका'

जो हम जानते हैं-

  • इलाज़ के दौरान घायलों में से एक पहलू ख़ान की मंगलवार को मौत हो गई. इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज किया है.
  • सोशल मीडिया पर पोस्ट वीडियो में कथित गौरक्षक पैसे लेते हुए, गाड़ी तोड़ते हुए और गायें ले जा रहे लोगों को बुरी तरह पीटते हुए दिख रहे हैं.
  • गाय ले जा रहे लोगों ने हमलावरों को ख़रीद के दस्तावेज भी दिखाए थे.
  • गाड़ियों को राष्ट्रीय राजमार्ग आठ पर जगुवास के पास रोका गया था.
  • इन गायों को जयपुर के पास नगर निगम के सरकारी मेले से ख़रीदा गया था.
  • मृतक पहलू ख़ान के बेटे हुसैन ख़ान के अनुसार, दो गायों की क़ीमत 85 हज़ार रुपए थी जबकि दो अन्य गायों की क़ीमत 45 हज़ार रुपए थी.
  • बेहरोर पुलिस थाना के सब इंस्पेक्टर विजय तिवारी ने स्थानीय पत्रकार आभा शर्मा को बताया कि इस मामले में मंगलवार को ही 11 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

जो नहीं है पता-

  • केस दर्ज करने के बाद पुलिस क्या कार्रवाई कर रही है और मामला आगे कैसे बढ़ेगा. बहरोड़ पुलिस के अनुसार इस मामले में तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है.
  • वीडियो फुटेज के आधार पर दूसरे हमलावरों की शिनाख्त कर रही है.
  • पीड़ितों को कोई राहत मुहैया कराई जाएगी या फिर उन्हें भी संदिग्ध माना जा रहा है.
  • अभी तक ये नहीं पता चला है कि हमलावर किसी गोरक्षा संगठन से जुड़े हैं या नहीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)