स्टॉकहोम में स्टोर से टकराई लॉरी, 4 की मौत

  • 8 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट SWEDISH POLICE HANDOUT

स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम के सेंट्रल हिस्से में मौजूद स्टोर में एक लॉरी घुस गई. स्वीडिश मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक इस हादसे में चार लोगों की मौत हो गई है.

स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टीफ़न लोवियन के मुताबिक, हर संकेत इसके चरमपंथी हमला होने का संकेत दे रहा है. इस मामले में पुलिस ने एक शख़्स को गिरफ़्तार किया है.

पुलिस ने सीसीटीवी से मिली एक तस्वीर जारी की है और पुलिस इस व्यक्ति से बात करना चाहती है.

हालांकि गिरफ़्तार किए शख़्स के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. वहीं ये लॉरी जिस फ़र्म की है, उसके मुताबिक दिन में लॉरी को हाईजैक कर लिया गया था.

इमेज कॉपीरइट @narendramodi

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके इस हादसे पर दुख जताया है.

उन्होंने ट्वीट किया है, "हम स्टॉकहोम पर हुए हमले की निंदा करते हैं. मृतकों के परिजनों से सहानुभूति है और हम घायलों के ठीक होने की प्रार्थना करते हैं. दुख की इस घड़ी में भारत स्वीडन के साथ मज़बूती से खड़ा है."

इमेज कॉपीरइट Twitter

वहीं विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज ने ट्वीट किया, "मैं स्वीडन में भारतीय राजदूत के साथ संपर्क में हूँ. हमला भारतीय दूतावास के पास हुआ. हमारे अधिकारी सुरक्षित हैं. "

जबकि स्वीडन में भारतीय दूतावास के हैंडल से ट्वीट किया गया है कि अगर कोई भारतीय हमले से प्रभावित है तो दूतावास से (08-4117090, 08-107008) पर संपर्क करे.

स्वीडिश पुलिस के मुताबिक इस हमले में कई लोग घायल हुए हैं. ये हादसा शहर के सबसे मशहूर गलियों में शामिल क्वीन स्ट्रीट के भीड़भाड़ वाले इलाके में हुआ है.

स्टॉकहोम के उपनगरीय रेल नेटवर्क को बंद कर दिया गया है और मुख्य स्टेशनों को खाली करा लिया गया है. पुलिस ने आम लोगों से सिटी सेंटर के पास नहीं आने की अपील की है.

इमेज कॉपीरइट AFP/GETTY IMAGES

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक एक डिपार्टमेंटल स्टोर में तेज रफ़्तार से आ रही लॉरी जा टकराई.

बीबीसी के रक्षा संवाददाता फ़्रैंक गार्डेनर ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि स्टॉकहोम के दूसरे हिस्से में गोलीबारी भी हुई है.

हालांकि इन दोनों घटनाओं के बीच किसी आपसी संबंध का पता नहीं चल पाया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे