पश्चिम बंगाल में एक तांत्रिक ने 'देवी के आदेश पर' मां की बलि चढ़ाई

बलि इमेज कॉपीरइट NIRAJ SINHA
Image caption फाइल फ़ोटो

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया ज़िले में एक तांत्रिक ने देवी की प्रतिमा के सामने अपनी मां की कथित तौर पर बलि चढ़ा दी.

पुलिस ने नारायण महतो (35) को अपनी मां फूली देवी (55) की हत्या के आरोप में गिरफ़्तार कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक तांत्रिक का कहना है कि देवी मां ने उसके सपने में आकर उसे ऐसा करने का आदेश दिया था.

पुरुलिया के पुलिस अधीक्षक जय विश्वास ने बताया, "अभियुक्त नारायण महतो ने पशुओं को मारने के लिए इस्तेमाल होने वाले एक धारदार हथियार से अपनी मां फूली महतो का गला काट दिया. उस समय फूली महतो बड़ा बाजार थाने के बामाग्राम में मंदिर परिसर की सफाई कर रही थीं."

पुलिस के मुताबिक मां की गर्दन काटने के बाद नारायण हथियार के साथ अपने बड़े भाई के घर पहुंचा और दावा किया कि उसने देवी की प्रतिमा के समक्ष मां की बलि चढ़ा दी है.

झारखंड में भक्तों ने गुरू की बलि दी

झारखंड: मंदिर में गला काटकर दी जान

इमेज कॉपीरइट NIRAJ SINHA
Image caption फाइल फ़ोटो

बड़े भाई ने घर पहुंच कर देखा कि मां का सिर और धड़ अलग पड़ा है. उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी.

पुलिस अधीक्षक ने बताया, "नारायण ने पूछताछ के दौरान कबूल किया है कि देवी को ख़ुश करने के लिए ही उसने मां की बलि दी. उसने बताया कि देवी ने सपने में आकर उसे मां की हत्या करने का आदेश दिया था."

पुरुलिया ज़िला अदालत ने शनिवार को उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

विश्वास ने कहा कि पुलिस इस मामले के तमाम पहलुओं और हत्या के संभावित मक़सद की जांच रही है.

पड़ोसियों का दावा है कि अभियुक्त एक 'तांत्रिक' था और उसने घर में ही काली मंदिर बना रखा था. आरोप है कि नारायण वहां 'तरह-तरह की तांत्रिक क्रियाएं' करता था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे