'कुलभूषण को बचाने के लिए भारत कुछ भी करेगा'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जासूसी के आरोप में पाकिस्तान में मौत की सज़ा पाने वाले भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को बचाने के लिए भारत सरकार हर क़दम उठाएगी.

मंगलवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में कहा कि 'जाधव को हर हाल में बचाने के लिए हम कोई भी रास्ता अख़्तियार करेंगे.'

उन्होंने कहा कि अगर कुलभषण को फांसी दी जाती है तो 'ये जानबूझकर की गई हत्या माना जाएगा.'

विदेश मंत्री ने कहा कि वो जाधव के मां बाप के सम्पर्क में हैं और हर संभव मदद देने की कोशिश हो रही है.

'भारतीय नागरिक को प्रताड़ित कर रहा है पाक'

'कच्ची गोलियां खेलने वालों ने जासूसी कहानी गढ़ी'

इमेज कॉपीरइट LSTV

इससे पहले लोकसभा में राजनाथ सिंह ने सज़ा की निंदा करते हुए आश्वासन दिया कि 'चाहे इसके लिए जो भी करना पड़े, भारत सरकार करेगी और जाधव को इंसाफ़ मिलेगा.'

कुलभूषण जाधव को तीन मार्च, 2016 को बलूचिस्तान में जासूसी करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था.

गृहमंत्री ने कहा कि जाधव का पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने पहले अपहरण कर लिया और फिर मीडिया के सामने भारतीय जासूस के रूप में प्रस्तुत किया.

उन्होंने कहा कि 'पाकिस्तानी अधिकारियों ने मीडिया के सामने कहा था कि कुलभूषण के पास वैध भारतीय पासपोर्ट है. हमारा कहना है कि अगर ऐसा है तो जासूस कैसे हो गए?'

इमेज कॉपीरइट others

उन्होंने कहा कि भारती उच्चायोग ने बार बार काउंसिलर एक्सेस दिए जाने की मांग की लेकिन पाकिस्तान इससे हर बार इनकार करता रहा.

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि सदन और देश की एकजुटता का संदेश अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी जानी चाहिए.

उन्होंने कहा कि इस घटना के संबंध में पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय संधियों का उल्लंघन कर रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे